Sunday , July 22 2018

बाल-बाल बचे दो हज़ार यात्री, दरभंगा एक्सप्रेस बिना ब्रेक के 350 KM दौड़ी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां देश को बुलेट ट्रेन के सुनहरे सपने दिखा रहे हैं वहीं दूसरी ओर देश में रेल हादसे थमने का नाम ही नही ले रहे। अब खबर दरभंगा से मुंबई जाने वाली ट्रेन दरभंगा एक्सप्रेस की है, जिसे रेल प्रशासन की लापरवाही के चलते ब्रेक फेल होने के बावजूद 350 किलोमीटर तक दौड़ाया गया।

ख़बरों के मुताबिक, दरभंगा एक्सप्रेस के 21 डिब्बों में से 19 का ब्रेक तकनीकि खराबी के चलते फेल हो गया। लेकिन हैरानी की बात यह है कि ब्रेक फेल होने के बावजूद ट्रेन को 350 किलोमीटर दूर वाराणसी तक दौड़ाया गया। बता दें कि इस ट्रेन में 2000 पैसेंजर सवार थे।

ग़ौरतलब है कि ब्रेक फेल होने के बारे में रेलवे बोर्ड के मेंबर आरएल गुप्ता ने ईस्ट सेंट्रल रेलवे के चीफ मकैनिकल इंजिनियर को चिट्ठी लिखकर इसकी सूचना दी थी। चिट्ठी में लिखा गया था कि  मुंबई जाने वाली दरभंगा-लोकमान्य तिलक टर्मिस एक्सप्रेस के ब्रेक्स में पावर नहीं है। यह बेहद गंभीर मामलाहै, जिससे कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

हालांकि अधिकारी इस तरह की कोई सूचना मिलने की खबर से इनकार कर रहे हैं। नॉर्दन सेंट्रल रेलवे के चीफ पीआरओ राजेश कुमार का कहना है, ‘मुझे रेलवे बोर्ड की ओर से मिले किसी लेटर की जानकारी नहीं है।

इस मामले पर रेलवे बोर्ड के पूर्व चेयरमैन विवेक सहाय का कहना है, ‘इस घटना से साफ है कि रेलवे में सुरक्षा मानकों पर काम करने की जरूरत है, ट्रेन संचालन स्टाफ की काउंसलिंग की जानी चाहिए ताकि हादसे न हों।’

दुख की बात यह है कि हाल में हुए रेल हादसों से कोई सबक नहीं लिया गया। आपको याद होगा कि बीते महीने उत्तर प्रदेश में ट्रेन के पटरी से उतर जाने के कारण 23 लोगों की जान चली गई थी, इसके अलावा हाल में कई और रेल हादसे हुए।

TOPPOPULARRECENT