एर्दोगान ने अमरीका को सीरिया के मनबिज शहर को लेकर चेतावनी दी

एर्दोगान ने अमरीका को सीरिया के मनबिज शहर को लेकर चेतावनी दी
Click for full image

अंकारा। राष्ट्रपति रसेप तय्यिप एर्दोगान ने मंगलवार को अमेरिका को चेताया कि वह सीरियाई शहर मजबिस से अमेरिकी सेना की वापसी पर स्थिति साफ़ करे। एर्दोगान ने वाशिंगटन को पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट्स (वाईपीजी) और डेमोक्रेटिक यूनियन पार्टी (पीवाईडी) की राजनीतिक दलों से लड़ने वालों को मनबिज में मौजूदगी के लिए दोषी ठहराया, जिसे अंकारा आतंकवादी समूहों के रूप में देखता है।

तुर्की ने 20 जनवरी को एक बड़े अभियान का शुभारंभ किया जिसका उद्देश्य वाईपीजी बलों को उत्तर-पश्चिमी शहर अफरीन के उनके एन्क्लेव से बाहर निकालना था। पिछले वादों को तोड़ने का वाशिंगटन पर आरोप लगाते हुए एर्दोगान ने कहा कि उन्होंने (अमेरिकियों) हमें बताया कि वे मनबिज से बाहर निकलेंगे। उन्होंने कहा कि वे मनबिज में नहीं रहेंगे, आप क्यों नहीं जाते?

तुर्की ने वाईपीजी को निर्वासित कुर्दिस्तान श्रमिक पार्टी (पीकेके) के सीरिया की शाखा के रूप में माना है, जिसने 1984 के बाद से विद्रोह किया है और अंकारा और उसके पश्चिमी सहयोगियों द्वारा एक आतंकवादी संगठन नामित किया गया है। तुर्की मनबिज जैसे कस्बों को मूल रूप से अरब-बहुमत वाले राज्य समझता है, जहां सात साल के गृहयुद्ध के दौरान कुर्दों के पक्ष में जातीय संतुलन रहा।

अमेरिका सहित तुर्की के पश्चिमी सहयोगी एक आतंकवादी समूह के रूप में वाईपीजी को वर्गीकृत नहीं करते हैं और इस्लामी राज्य जिहादियों के खिलाफ लड़ाई में अपने सेनानियों के साथ मिलकर काम किया है। 2016 में सीरियाई डेमोक्रेटिक फोर्स (एसडीएफ) वाईपीजी के वर्चस्व वाले एक गठबंधन ने आईएस से मनबिज पर कब्जा कर लिया था। तुर्की के नाटो सहयोगी पर उन्होंने अमेरिका से पूछा कि वह सीरिया में क्या कर रहा था। आपके पास सीमा नहीं है, आप एक पड़ोसी (सीरिया) नहीं हैं। हमारे पास 911 किलोमीटर (566 मील) की सीमा है।

Top Stories