कश्मीर : मानवाधिकार उल्लंघन की जांच की मांग वाली रिपोर्ट का एंटोनियो गुटेरेस ने समर्थन किया

कश्मीर : मानवाधिकार उल्लंघन की जांच की मांग वाली रिपोर्ट का एंटोनियो गुटेरेस ने समर्थन किया
Click for full image

नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन के आरोपों की स्वतंत्र जांच का समर्थन किया है। गत माह संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के हाई कमिश्नर जैद राद अल हुसैन ने एक रिपोर्ट जारी कर आरोप लगाया था कि भारतीय सुरक्षाबल कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

हुसैन ने मामले में स्वतंत्र अंतर्राष्ट्रीय जांच की भी मांग की थी। हालांकि, भारत ने उनकी रिपोर्ट को पूर्वाग्रहों से भरी झूठी कहानी बताकर खारिज कर दिया था। गुटेरेस ने ह्यूमन राइट्स कमिश्नर की रिपोर्ट का समर्थन करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र के किसी भी अंग का हम पूरा समर्थन करते हैं।

यूएन में भारत के एम्बेस्डर सैयद अकबरुद्दीन ने गुटेरेस के बयान पर कहा, ‘ये सच है कि ह्यूमन राइट्स हाई कमिश्नर संयुक्त राष्ट्र का ही प्रतिनिधित्व करता है, लेकिन उनकी रिपोर्ट को यूएन में किसी ने तवज्जो नहीं दी।

हुसैन की रिपोर्ट जुलाई 2016 से अप्रैल 2018 के बीच जम्मू-कश्मीर के घटनाक्रम पर आधारित है। 8 जुलाई 2016 में ही सुरक्षाबलों ने जैश आतंकी बुरहान वानी को एनकाउंटर में मार गिराया था, जिसके बाद घाटी में उग्र प्रदर्शन हुए थे।

इस दौरान हालात काबू में करने के लिए फौज को कई बार बल प्रयोग भी करना पड़ा। इस पर हुसैन ने सुरक्षाबलों की आलोचना की और कश्मीर में स्वतंत्र जांच की मांग की थी।

Top Stories