ऊना: बुद्धपूर्णिमा पर 300 दलित करेंगे अपना धर्म परिवर्तन, उच्च जातियों के अत्याचार से हैं आहत

ऊना: बुद्धपूर्णिमा पर 300 दलित करेंगे अपना धर्म परिवर्तन, उच्च जातियों के अत्याचार से हैं आहत

अहमदाबाद: गुजरात के ऊना में मोटा समाधिया गांव में रहने वाले दलित परिवार ने रविवार को हिंदू धर्म छोड़कर बौद्ध धर्म अपनाने का फैसला किया है। उन दलितों में वह दलित भी शामिल हैं, जिन्हें जुलाई 2016 में कथित रूप से एक मृत गाय की खाल उतारने को लेकर गौ रक्षकों ने अधनंगा करके शहर भर में घुमाया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सूत्रों के मुताबिक बौद्ध धर्म को स्वीकार करने वाले गाँव के उन लोगों के साथ आस पास के लगभग 300 दलित भी अपना धर्म परिवर्तन करेंगे। उनका कहना है कि दलितों पर लगातार अत्याचार किये जा रहे हैं, जिसके कारण वे बौद्ध धर्म स्वीकार करने जा रहे हैं।

धर्म परिवर्तन के लिए जिला प्रशासन से अनुमति लेनी पड़ती और उसके अनुमति के बाद ही ऐसा किया जा सकता है। अभी तक जिला प्रशासन को इस संबंध में दलितों की ओर से 300 फॉर्म प्राप्त हुए हैं। हालांकि दलितों का कहना है कि रविवार को बुद्ध पूर्णिमा के दिन मोटा समाधिया गाँव में होने वाली इस संबंध की समारोह में अन्य लोग भी शामिल होंगे। धर्म परिवर्तन करवाने के लिए पोरबंदर से बौद्ध भिक्षु भी आमंत्रित किए गए हैं।

Top Stories