UNGA- इमरान खान के भाषण पर भारत का वॉकआउट

UNGA- इमरान खान के भाषण पर भारत का वॉकआउट

संयुक्त राष्ट्र महासभा में विभिन्न देशों के नेता संबोधित कर रहे हैं। कोरोना वायरस के कारण इन राष्ट्र प्रमुखों के रिकॉर्ड किए गए वीडियो संदेश प्रतिनिधि सभा में दिखाए जा रहे हैं। शुक्रवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का संबोधन दिखाया गया। अपनी फितरत के मुताबिक इमरान खान ने जहर उगला और कश्मीर समेत कई मुद्दों पर दुनिया को झूठ परोसने की कोशिश की। इस पर UNGA में मौजूद भारत के प्रतिनिधि ने वॉकआउट कर दिया। असेंबली चैम्बर की पहली कतार की दूसरी सीट पर बैठे फर्स्ट सेकेट्ररी मिजितो विनितो उठ कर चले गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन आज शाम प्रसारित होगा।

इमरान खान ने अपनी स्पीच में भारत पर हमला किया और एक तरह से आतंकवादियों को समर्थन देने की घोषणा की। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा, पाकिस्तान सरकार और लोग कश्मीरी भाइयों और बहनों के आत्मनिर्णय के लिए जारी संघर्ष का समर्थन करते हैं और उनके साथ खड़े रहने के लिए प्रतिबद्ध हैं। भारत पर पाकिस्तान सरकार द्वारा प्रायोजित किसी भी हमले में शामिल होने से इमरान खान ने इनकार किया और कहा कि इसका झूठा प्रचार किया जा रहा है।

इमरान ने यह भी कहा कि भारत महात्मा गांधी के धर्मनिरपेक्षता को त्याग रहा है और हिंदुत्व राज्य की ओर बढ़ रहा है। इमरान खान ने प्रधानमंत्री मोदी पर व्यक्तिगत टिप्पणी करने के साथ-साथ भारत में मुस्लिमों की स्थिति को लेकर मनगढ़ंत आरोप लगाए।

इमरान खान के भाषण पर भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने जवाब दिया। उन्होंने ट्वीट किया, ये युद्ध की आग भड़काने वाला भाषण था। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का बयान एक निम्न स्तर का कूटनीतिक कदम है – शातिर, असत्य, व्यक्तिगत हमलों से भरा हुआ। अपने स्वयं के अल्पसंख्यकों के उत्पीड़न करने वाला पाकिस्तान सीमा पार से आतंकवाद को बढ़ावा देता रहता है।

Top Stories