Thursday , April 26 2018

संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारी अपनी हैशियत में रहें: एर्दोगान

अंकारा: मध्य पूर्व में इस समय अटकलों का नया सिलसिला तब शुरू हो गया जब तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तईप एर्दोगान ने संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री को ‘अपनी हैशियत में रहने’ की हिदायत की।

संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद ने सोशल मीडिया पर एक संदेश में तुर्की के राष्ट्रपति पर लगाए गए आरोप को रीट्वीट कर दिया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि एर्दोगान के आबा-ओ-अजदाद ने 20 वीं सदी के पहले, मदीना के लोगों को अगवा किया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

फ्रांसीसी समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक ट्विटर पर अली अल-ईराकी नामक एक यूजर्स ने अपने पोस्ट में कहा था कि है कि गवर्नर मदीना फरदीन पाशा चोर था। उनहोंने आगे यह भी लिखा कि मदीना के गवर्नर, तुर्क राष्ट्रपति एर्दोगान के आबा-ओ-अजदाद थे।

फ्रांसीसी समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक ट्विटर पर अली अल-ईराकी नामक एक यूजर्स ने अपने पोस्ट में कहा था कि है कि गवर्नर मदीना फरदीन पाशा चोर था। उनहोंने आगे यह भी लिखा कि मदीना के गवर्नर, तुर्क राष्ट्रपति एर्दोगान के आबा-ओ-अजदाद थे।

फ्रांसीसी समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक ट्विटर पर अली अल-ईराकी नामक एक यूजर्स ने अपने पोस्ट में कहा था कि है कि गवर्नर मदीना फरदीन पाशा चोर था। उनहोंने आगे यह भी लिखा कि मदीना के गवर्नर, तुर्क राष्ट्रपति एर्दोगान के आबा-ओ-अजदाद थे।

सोशल मिडिया के एक यूजर अली अल-ईराकी द्वारा किए गये ट्वीट के बाद संयुक्त अरब अमीरात के वरिष्ठ अधिकारी ने ट्वीटर के इस लेख को रीट्वीट कर दिया था। जिसके बाद संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री के हरकत को लेकर एरदोगन ने उन्हें नसीहत दी कि युएई की अधिकारी अपने औकात में रहे तो बेहतर है।

TOPPOPULARRECENT