मुसलमान रमज़ान में इबादत करें इसलिए हिंदू और सिखों ने मिलकर बनाई मस्ज़िद

मुसलमान रमज़ान में इबादत करें इसलिए हिंदू और सिखों ने मिलकर बनाई मस्ज़िद
Click for full image

गालिब रण सिंह गांव के हिंदू-सिख परिवारों ने भाईचारे मिसाल पेश करते हुए रमज़ान के मौके पर मुस्लिम भाइयों को मस्जिद बनवाकर दी है। मस्ज़िद बनाने के लिए बकायदा पंचायत ने ज़मीन दी।

नमाज़ अदा कराने पहुंचे लुधियाना की शाही जामा मस्जिद के इमाम मौलाना हबीब उर रहमान ने कहा कि मेरा मुल्क और उसमें मिल-जुलकर रहने वाले लोग बेमिसाल हैं।

दरअसल गांव गालिब रण सिंह लुधियाना के सांसद रहे स्व.गुरचरण सिंह गालिब के गांव गालिब के नजदीक है। यहां मुस्लिम के बमुश्किल दस-बारह घर हैं। जिन्हें गांव में कोई मस्जिद होने की वजह से इबादत के लिए दूसरे गांवों में जाते थे।

इसलिए उनके जज्बातों की कद्र करते हुए गांव के सरपंच हरसिमरन सिंह बाली ने नेक पहल की। उन्होंने मौलाना हबीब से इस बाबत बातचीत कर गांववालों की तरफ से मस्जिद बनवाकर देने का प्रस्ताव रखा।

आख़िरकार गांव वालों ने मुस्लिम परिवारों के साथ मिलकर मस्जिद का निर्माण कराया। और आज रविवार को एक सादे समारोह के साथ मस्जिद में नमाज़ पढ़ी गई।

इस मौके पर पर नायब शाही इमाम मौलाना उस्मान रहमानी ने कहा कि गांववालों की इस पहल से कौमी एकता की नींव मजबूत होगी।

इस दौरान पंचायत मेंबर राजिंदर सिंह, दविंदर सिंह, सुखविंदर सिंह, हरजिंदर कौर, भगवंत सिंह, नरिंदर कौर, बलजीत सिंह, नंबरदार वीरइंदर सिंह की खास मौजूदगी रही।

सूबे के दीनी मरकज, अल-हबीब ट्रस्ट और मुल्क की जंगे आजादी में शामिल रही मजलिसे अहरार हिंद पार्टी की तरफ से गांव के सरपंच और पंचायत मेंबरों को इस नेक काम के लिए सम्मानित भी किया गया।

 

Top Stories