अमेरिका में कॉल सेंटर से अरबों का घोटाला करने के जुर्म में 21 भारतीयों को 20 साल तक की जेल

अमेरिका में कॉल सेंटर से अरबों का घोटाला करने के जुर्म में 21 भारतीयों को 20 साल तक की जेल
Click for full image

न्यूयॉर्क. अमेरिका में रहने वाले 21 भारतीयों को अरबों रुपए के कॉल सेंटर घोटाले के मामले में चार से लेकर 20 साल तक की सजा सुनाई गई है। अमेरिकी न्याय विभाग ने कहा है कि भारत से फोन स्कैमर के दर्जनों, लाखों डॉलर के अमेरिकी निवासियों को धोखा देने के लिए 20 साल तक जेल की सजा सुनाई गई है। दोषी पाए गए भारतीयों को सजा पूरी होने के बाद भारत वापस भेज दिया जाएगा। कॉल सेंटर भारत से ऑपरेट हो रहे थे और अमेरिका में दोषी ठहराए गए लोग इस रैकेट का हिस्सा थे। कॉल सेंटर की भारत के अलग-अलग शहरों में ब्रांच थीं। इसके जरिए 6500 अमेरिकियों से एक साल में करीब 239 करोड़ रुपए ठगे गए।

कॉल सेंटर्स के कर्मचारी अमेरिकी लहजे में इंग्लिश बोलकर लोगों को फंसाते थे। वे पहले टैक्स न चुका पाने वाले अमेरिकियों की जानकारी हासिल करते थे। बाद में उन्हें अमेरिकी अफसरों के नाम से फोन करते थे। उनसे पैसा मांगते थे। भुगतान नहीं करने पर गिरफ्तारी या जुर्माने की धमकी देते थे। इनमें ज्यादातर बुजुर्गाें को निशाना बनाया जाता था। कार्रवाई से बचने के लिए अमेरिकी 500 से 60 हजार डॉलर (करीब 33 हजार से 39.92 लाख रुपए) तक देने को तैयार हो जाते थे।

इस कॉल सेंटर योजना, इस सप्ताह 21 और इस साल के शुरू में तीन अन्य लोगों की कुल 24 लोगों की सजा सुनाई गई है। पीड़ितों को करीब 9 मिलियन डॉलर की पुनर्वितरण के लिए 22 लोग जिम्मेदार ठहराए गए थे। डीओजे के मुताबिक मामले में जब्त की गई संपत्ति लगभग 73 मिलियन डॉलर थी।

Top Stories