UTTAR PARDESH : अनुदानित मदरसों के शिक्षकों को मिला ईद का तोहफा

UTTAR PARDESH : अनुदानित मदरसों के शिक्षकों को मिला ईद का तोहफा

अप्रैल और मई के वेतन का इंतजार कर कर रहे मदरसा शिक्षकों को ईद के पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली सरकार से बड़ा तोहफा दिया है। हिंदुस्तान लाइव की खबर के अनुसार, प्रदेश के 55 जिलों के 360 अनुदानित मदरसा शिक्षकों को अप्रैल और मई माह का बकाया वेतन भुगतान के लिए 68 करोड़ 11 लाख 50 हजार रुपये मिले। सभी मदरसा शिक्षकों के खाते में वेतन की यह राशि स्थानांतरित करा दी गई है।

गोरखपुर में उच्च आलिया स्तर के मदरसे हैं। इनमें मदरसा अंजुमन इस्लामियां खूनीपुर,‌‌‌‌ मदरसा जियाउल उलूम पुराना गोरखपुर गोरखनाथ, मदरसा अरबिया शमसुल उलूम सिकरीगंज, मदरसा अनवारुल उलूम गोला बाजार, मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया दीवान बाजार, मदरसा जामिया रजविया मेराजुल उलूम चिलमापुर, अंजुमन इस्लामियां उनवल शामिल हैं। इसी तरह आलिया स्तर के अनुदानित मदरसे मदरसा जामिया रजविया गोला बाजार, मदरसा मिस्बाहुल उलूम असौजी बाजार और मदरसा मकतब बहरुल उलूम बड़गो गोरखपुर है।

इन सभी मदरसों में कुल 147 शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारी हैं जिनमें शिक्षकों की संख्या 114 है। अल्पसंख्यक कल्याण उत्तर प्रदेश निदेशालय से 11 जून को धनराशि का आवंटन कर सभी 55 जिलों के जिला अल्पसंख्यक अधिकारियों को सूचित किया गया था।

तत्काल कार्रवाई करते हुए जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी संजय कुमार मिश्रा ने अप्रैल और मई माह के वेतन के रूप में मिली 1.50 करोड़ रुपये की धनराशि सभी दस मदरसों के शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों के खाते में स्थानांरित करा दी। वेतन का इंतजार कर रहे मदरसा शिक्षक ईद पर परिवार के साथ ईद का जश्न मना सकेंगे।

Top Stories