Saturday , September 22 2018

“योगी सरकार हमें जेल में रखें अन्यथा पुलिस मुठभेड़ में हमें मार दिया जाएगा”

उत्तर प्रदेश के कैराणा शहर के कुछ खतरनाक अपराधियों का कहना है हम जमानत पर बाहर होने की तुलना में जेल में अधिक सुरक्षित हैं। शामली जिला पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के बाद एक दर्जन से अधिक अपराधियों ने पुलिस को लिखित में दिया है कि वे कभी भी किसी भी गैर-कानूनी गतिविधियों में शामिल नहीं होंगे।

अधिकारियों का कहना है कि 80 गिरोहों को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि छह अन्य लोगों को 10 महीने से कम समय में स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
ऐसा आतंक है कि कई अपराधियों ने अपनी जमानत निरस्त करवाई है। यहां तक कि सबसे खतरनाक गैंगस्टर मुकुम काला ने अदालत के सामने जेल में जंजीर से बांध कर रखने के लिए कहा है ताकि वह बाहर नहीं निकल सके।

मेल टुडे ने कैराना में करीब एक दर्जन कथित लोगों से बात की जो जमानत पर बाहर हैं, लेकिन उन्होंने पुलिस से वादा किया है कि वे कभी भी किसी आपराधिक गतिविधियों में शामिल नहीं होंगे। इनमें से कुछ व्यक्ति हत्या, फिरौती, जबरन वसूली, डकैती और अवैध हथियारों की आपूर्ति के मामलों में नामित हैं।

कैराना में हाल ही में हुई मुठभेड़ों ने इनको डरा दिया है। एक कुख्यात गैंगस्टर ने कहा कि मैंने शहर एसएसपी को बताया है कि मैं कभी भी कोई अपराध नहीं करूंगा। हम फिर से पकड़े गए तो हम नहीं बचेंगे। पुलिस ने बताया कि वह हत्या, लूट और जबरन वसूली के 20 मामलों में शामिल है। ऐसे ही अनेक अपराधी हैं जो डरे हुए हैं और वापस जेल जाना चाहते हैं ताकि सुरक्षित रहें।

कुछ अन्य अपराधियों ने भी अपने गांवों में लौटने और वहां काम करना शुरू करने की कसम खाई है। शहर के पुलिस प्रमुख पिछले वर्ष यह कार्रवाई शुरू की थी जिससे यह बदलाव आया है। शामली के एसएसपी अजय पाल शर्मा ने कहा कि इससे पहले कोई पुलिसकर्मी इनके गांवों में प्रवेश करने की हिम्मत नहीं रखता था, लेकिन अब हालात बदल रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT