Sunday , December 17 2017

निकाय चुनाव खत्म होते ही योगी सरकार ने दिया झटका, बढ़ाए 12 फीसदी बिजली के दाम

उत्तर प्रदेश: उत्तर प्रदेश सरकार ने निकाय चुनाव के खत्म होते ही जोड़ का झटका देते हुए बिजली दरों में बढ़ोतरी का ऐलान किया है। इसके तहत लघु, मध्यम व भारी उद्योगों व लाइफ लाइन उपभोक्ताओं को छोड़कर अन्य सभी श्रेणियों के बिजली उपभोक्ताओं की बिजली महंगी होगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

राज्य विद्युत नियामक आयोग ने बिजली दरों में बढ़ोतरी करते हुए बताया है कि नई कीमतों के मुताबिक पहली 100 यूनिट के लिए तीन रुपये और इसके बाद 4.50 रुपये प्रति यूनिट के दर से बिल आएगा। इस तरह कुल 12 फीसदी तक की बढ़ोतरी की गई है। वहीँ शहरी उपभोक्ताओं को अब 150 यूनिट तक 4.90 रुपये की दर से और 150 से 300 यूनिट तक 5.40 रुपये की दर से बिजली मिलेगी।

विद्युत नियामक आयोग के चेयरमैन एस. के. अग्रवाल ने गुरुवार को बिजली दरों में करीब 12 फीसदी की बढ़ोतरी की जानकारी देते हुए कहा कि बिजली दरों में 20 फीसदी बढ़ोतरी का प्रस्ताव था, लेकिन हम 12 फीसदी ही बढ़ोतरी को मंजूरी दे रहे हैं।

वर्तमान में एक करोड़ 20 लाख बिजली उपभोक्ता हैं, 2018-19 में यह संख्या बढ़कर 4 करोड़ होने जा रही है। गरीबों को बिजली का मुफ्त कनेक्शन दिया जाएगा, जिससे करीब 2 करोड़ उपभोक्ता बढ़ेंगे।

उनहोंने कहा कि लघु, मध्यम व भारी उद्योगों व लाइफ लाइन उपभोक्ताओं को छोड़कर अन्य सभी श्रेणियों के बिजली उपभोक्ताओं की बिजली महंगी होगी। गांव की बिजली दरें लंबे समय से न बढ़ने का हवाला देते हुए सर्वाधिक बढ़ोतरी ग्रामीण उपभोक्ताओं की बिजली की दरों में की गई है।

बता दें कि अब तक जहां ग्रामीणों को 180 रुपये प्रति किलोवाट प्रतिमाह देना होता है, वहीं अगले सप्ताह से 300 रुपये देने होंगे। जबकि पहली अप्रैल से यह 400 रुपये हो जाएगा। प्रति यूनिट दर 2.20 रुपये से बढ़कर 100 यूनिट तक तीन रुपये और उससे अधिक अधिकतम 5.50 रुपये होगी।

TOPPOPULARRECENT