कासगंज हिंसा: मुसलमानों को पीस मिटिंग में प्रशासन ने नहीं किया शामिल

कासगंज हिंसा: मुसलमानों को पीस मिटिंग में प्रशासन ने नहीं किया शामिल
Click for full image

कासगंज पर हिंसा पर बुलाई गई पीस मीटिंग पूरी हो गई है। मीटिंग में डीएम आरपी सिंह ने सबसे लॉ एंड ऑर्डर का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि मीटिंग में मौजूद लोगों से अपील करते हुए कहा कि किसी भी तरह की हिंसा में शामिल न हो, न ही किसी दुकान को जलाएं और बस में आग लगाएं।

सिंह ने लोगों को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर शांति स्थापित करने में लोगों ने सहयोग नहीं किया, तो उपद्रवियों की पहचान करके सख्त एक्शन लिया जाएगा।

हालांकि पीस मीटिंग में समाज के सभी वर्गों की हिस्सेदारी नजर नहीं आई. मीटिंग के लिए केवल हिंदू समुदाय के लोग ही पहुंचे थे। गौर करने वाली बात है कि फायरिंग की घटना के अलावा अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के वाहनों और गाड़ियों को उपद्रवियों ने आग के हवाले किया और तोड़ फोड़ की।

माना जा रहा है कि टकराव की आशंका के चलते प्रशासन ने केवल हिंदू समुदाय के लोगों को ही पीस मीटिंग के बुलाया। पीस कमेटी की बैठक में एडीजी आगरा जोन और कमिश्वर ने बैठक में हिस्सा लिया।

बता दें कि कासगंज में पिछले तीन दिनों से हिंसा जारी है। दूसरी ओर डीजीपी ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हिंसा काबू में है और स्थिति पर ड्रोन से निगरानी की जा रही है। हालांकि तीसरे दिन भी आगजनी की छिटपुट घटनाएं अभी भी जारी है।

सौजन्य – आज तक

Top Stories