Tuesday , November 21 2017
Home / Uttar Pradesh / 1 करोड़ 83 रु. खर्च हुए थे ‘सादगीपसंद’ योगी आदित्यनाथ के शपथग्रहण समारोह में, होगी जांच

1 करोड़ 83 रु. खर्च हुए थे ‘सादगीपसंद’ योगी आदित्यनाथ के शपथग्रहण समारोह में, होगी जांच

उत्तरप्रदेश में बीजेपी की सत्ता आई और योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। लेकिन अब योगी के शपथ ग्रहण समारोह में भारी भरकम खर्च की जांच की जा रही है। लखनऊ डेवलपमेंट अथॉरिटी ने कार्यक्रम पर एक करोड़ 83 लाख खर्च कर दिए थे। इस खर्च के लिए लखनऊ विकास प्राधिकरण के एक पूर्व अधिकारी शक के घेरे में हैं।

19 मार्च को योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के स्मृति उपवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. चौदह साल के वनवास के बाद यूपी की सत्ता में बीजेपी की शानदार वापसी हुई। इस ऐतिहासिक लम्हें का गवाह बने थे पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और लालकृष्ण आडवाणी समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेता।

योगी आदित्यनाथ के इस भव्य शपथ ग्रहण समारोह पर एक करोड़ तिरासी लाख रुपये खर्च हुए थे। ये रकम मंच से लेकर टेंट, ऑडियो सिस्टम और खान पान पर खर्च हुई थी। जबकि पांच साल पहले 15 मार्च 2012 को अखिलेश यादव के शपथ ग्रहण समारोह में सिर्फ नब्बे लाख रुपये खर्च हुए थे। ये रकम योगी के शपथ ग्रहण समारोह के मुकाबले आधी ही है।

शायद यही वजह है कि योगी के शपथ ग्रहण समारोह का एक करोड़ 83 लाख का बिल जब लखनऊ डेवलपमेंट अथॉरिटी ने सचिवालय को भेजा तो उसकी जांच के आदेश दे दिए गए। सूत्रों के मुताबिक, इस खर्च को लेकर एलडीए के तत्कालीन उपाध्यक्ष सत्येंद्रवीर सिंह पर गड़बड़ी करने का शक है।

योगी के भव्य शपथग्रहण समारोह में कितने रुपए खर्च हुए इसका खुलासा तो जांच के बाद ही होगा । जांच के बाद ही पता कि घोटाला अधिकारियों ने किया है या वाकई इतनी भारी भरकम राशि खर्च हो गई है ।

TOPPOPULARRECENT