Sunday , September 23 2018

UTTAR PRADESH : भाजपा नेता के भतीजे की मौत पर अस्पताल में जमकर हंगामा

बांदा। जिले में एक सरकारी अस्पताल में शुक्रवार को इंजेक्शन लगाने के बाद स्थानीय भाजपा नेता के भतीजे की मौत हो गई, जिसके बाद परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा मचाया। हंगामा देख इलाज करने वाले डाक्टर चुपचाप चले गए। इस दौरान अस्पताल पुलिस छावनी में तब्दील रहा।

भाजपा नेता ने पुलिस को इमर्जेंसी मेडिकल ऑफिसर के विरुद्ध तहरीर दी है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया, जिसमें मौत की वजह हार्टअटैक बताई जा रही है। हरीकिशन गुप्ता के पुत्र हिमांशु (24) उर्फ प्रिंसू को शुक्रवार सुबह 10 बजे सीने में दर्द होने पर परिजन जिला अस्पताल लाए। जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर में ईएमओ ने इलाज किया।

कुछ देर बाद परिजन उसे घर ले गए। दोबारा पौन घंटे बाद फिर से तबीयत बिगड़ने पर परिजन फिर अस्पताल लाए। यहां ईएमओ डॉ. विनीत सचान ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस पर परिजनों ने गलत इंजेक्शन लगाने का आरोप लगाकर हंगामा किया।

हिमांशु के चाचा भाजपा नेता व पूर्व मनोनीत सभासद प्रदीप कुमार गुप्ता ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि डॉ. विनीत सचान ने हिमांशु को देखकर इंजेक्शन लगाया और दवाएं दीं। घर पहुंचने पर दोबारा तबीयत बिगड़ गई और उसे तुरंत अस्पताल लाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। उनकी लापरवाही से मौत हुई है।

जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. किशोरीलाल ने कहा कि हिमांशु को पेट दर्द की शिकायत पर ईएमओ डॉ. विनीत सचान ने दवा लिखी और फार्मासिस्ट ने इंजेक्शन लगाया।

हालत में सुधार होने पर परिजन घर ले गए। एक घंटे बाद दोबारा अस्पताल लाने पर उसकी मौत हो चुकी थी। हिमांशु को इंजेक्शन नस में लगाया गया था। रिएक्शन होता तो घर ले जाने की भी नौबत नहीं होती।

TOPPOPULARRECENT