सोहराबुद्दीन एनकाउंटर में गवाह का नया खुलासा – सोहराबुद्दीन ने की थी पूर्व गृह मंत्री हरेन पंड्या की हत्या

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर में गवाह का नया खुलासा – सोहराबुद्दीन ने की थी पूर्व गृह मंत्री हरेन पंड्या की हत्या
Click for full image

सोहराबुद्दीन शेख की कथित फर्जी मुठभेड़ में हत्या के एक गवाह ने ट्रायल कोर्ट के समक्ष सनसनीखेज दावा किया है। गवाह ने सीबीआई की स्पेशल कोर्ट को बताया कि सोहराबुद्दीन ने ही गुजरात के पूर्व मंत्री हरेन पंड्या की हत्या की थी। इसके लिए गुजरात के पूर्व आईपीएस अधिकारी डीजी वंजारा ने पैसे दिए थे। गवाह ने दावा किया कि गुजरात के पूर्व आईपीएस अधिकारी डी जी वंजारा ने पंड्या की हत्या के कथित आदेश दिए थे. समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) ने इस गवाह के नाम का खुलासा नहीं किया गया है. हालांकि कई समाचार पत्रों में गवाह के नाम बताए गए हैं.

पंड्या की 2003 में अहमदाबाद में गोली मारकर हत्या की गई थी। गवाह ने सीबीआई के स्पेशल जज एसजे शर्मा को बताया कि सोहराबुद्दीन से उसकी मुलाकात साल 2002 में हुई थी और फिर उसकी दोस्ती उसकी पत्नी कौसर बी और उसके सहयोगी तुलसी प्रजापति से हो गई थी. उसी दौरान सोहराबुद्दीन ने बताया था कि पंड्या की हत्या के लिए वंजारा ने उसे पैसे दिए थे। फिर मैंने उससे कहा कि उसने जो कुछ किया, वह गलत था और उसने एक अच्छे इंसान की हत्या की थी”.

गवाह ने आगे बताया कि 2005 में राजस्थान पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर उदयपुर जेल में डाल दिया था। प्रजापति भी वहीं था। उसने बताया कि पुलिस ने सोहराबुद्दीन और उसकी पत्नी को मार डाला है। गवाही अगले हफ्ते भी जारी रहेगी। गौरतलब है कि सीबीआई ने दो कथित फर्जी मुठभेड़ों में 38 लोग आरोपी बनाए थे, लेकिन ट्रायल कोर्ट ने इनमें से 16 को आरोप मुक्त कर दिया। बरी होने वाले लोगों में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, वंजारा और अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।

डीजी वंजारा उस समय गुजरात एटीएस के प्रमुख थे। 1987 बैच के गुजरात कॉडर के आईपीएस डीजी वंजारा की छवि एनकाउंटर स्पेशलिस्ट की रही है। हालांकि बाद में सीबीआई जांच में पता चला कि उनके द्वारा किए गए ज्यादातर एनकाउंटर फर्जी थे।

Top Stories