VHP कार्यकर्ता ने मुस्लिम ड्राइवर देखकर कैंसल की कैब, ओला ने दिया करारा जवाब

VHP कार्यकर्ता ने मुस्लिम ड्राइवर देखकर कैंसल की कैब, ओला ने दिया करारा जवाब
Click for full image

जिस देश के प्रधानमंत्री दुनिया के हर मंच से सवा सौ करोड़ देशवासियों की बात करते हों, वहां विश्व हिंदू परिषद के युवा कार्यकर्ता द्वारा ड्राइवर का नाम और धर्म देखकर उसकी गाड़ी में सफर न करना, काफी हैरान करने वाला है.

ऐसी एक घटना यूपी की राजधानी लखनऊ से सामने आई है. जहां अभिषेक मिश्रा नाम के शख्स ने ओला कैब की बुकिंग की. बुकिंग के दौरान अभिषेक ने देखा कि जो गाड़ी उन्हें पिक करने आने वाली है, उसके ड्राइवर का नाम मसूद असलम है. अभिषेक ने ऐसा देखकर कैब बुकिंग कैंसल कर दी.

अभिषेक मिश्रा ने न सिर्फ ड्राइवर का नाम देखकर कैब की बुकिंग कैंसल कर दी, बल्कि उसका स्क्रीनशॉट लेकर ट्वीट भी किया. ये घटना बीते 20 अप्रैल की है. अभिषेक मिश्रा ने लखनऊ में बटलर कॉलोनी से पॉलिटेक्निक बस स्टैंड जाने के लिए ओला कैब बुक की. लेकिन ड्राइवर का नाम देखकर कैब बुकिंग रद्द कर दी.

वहीँ कैब प्रवाइडर कंपनी ओला  ने कहा है कि वह अपने ड्राइवर्स और कस्टमर्स के साथ उनके जाति, धर्म, लिंग या पंथ के आधार पर किसी तरह का भेदभाव नहीं करती है। ओला ने यह जवाब एक यूजर द्वारा ड्राइवर के समुदाय विशेष के चलते कैब कैंसल किए जाने पर दिया। अभिषेक का ट्वीट वायरल होने के बाद ओला ने जवाब देते हुए लिखा, ‘हमारे देश की तरह ओला भी एक सेक्युलर प्लैटफॉर्म है। हम अपने ड्राइवर्स और कस्टमर्स में जाति, धर्म, लिंग या पंथ के आधार पर भेदभाव नहीं करते हैं। हम अपने सभी ग्राहकों और ड्राइवर्स से आग्रह करते हैं कि वे एक-दूसरे से सम्मान के साथ व्यवहार करें।’
Top Stories