Saturday , December 16 2017

राम मंदिर का मुद्दा बातचीत से नहीं संसद में कानून बनवाना चाहती है VHP

अहमदाबाद। कट्टर हिन्दूवादी छवि के लिए पहचान रखने वाली वीएचपी गुजरात चुनाव में सक्रिय हो चुकी है। हिन्दुत्व का राग अलापने वाली वीएचपी गुजरात में बीजेपी की जमीन खिसकती देख अलग राग अलाप रही है।

वीएचपी का कहना है कि इस बार हिमाचल और गुजरात चुनाव में हिन्दुत्व पर नहीं बल्कि विकास को मुद्दा बनाकर लड़े दोनों पार्टीयां।

जैन ने राम मंदिर के सवाल पर कहा कि मंदिर की लड़ाई अब निर्णायक दौर में है। उन्होंने कहा कि यह मुद्दा अब वार्ता से सुलझने वाला नहीं है। इसे संसद में कानून बनाकर ही सुलझाया जा सकता है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या में दीपावली मनाने के सवाल पर जैन ने कहा कि अयोध्या में दिवाली नहीं मनाएंगे तो क्या मक्का में मनाएंगे?

सुरेंद्र जैन बताया कि विहिप बाबरी ढांचा गिराने के मौके पर 6 दिसंबर को एक वर्षगांठ की तरह मान रही है। यह तारीख शौर्य का दिन है। ढांचा गिराना मुसलमानों के लिए खुशी का मौका होना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT