राजसमंद हत्या : VHP और बजरंग दल के 132 उपद्रवी को दबाव में किया गया रिहा

राजसमंद हत्या : VHP और बजरंग दल के 132 उपद्रवी को दबाव में किया गया रिहा

जयपुर : राजस्थान के राजसमंद जिले में हुए लाइव मर्डर के बाद उदयपुर शहर में धारा 144 के दौरान हुए हुडदंग में
राजसमंद में लव जिहाद के नाम पर अफरज़ूल की हत्या करने वाले शंभूलाल रैगर के समर्थन में उदयपुर में बड़ी संख्या में उपद्रवियों ने निषेधाज्ञा का उल्लंघन करते हुए रैली निकालने की कोशिश की थी, जिसे रोकने के लिए पुलिस को बल प्रयोग करना पड़ा था. 200 के करीब उपद्रवी गिरफ्तार किए गए थे, जबकि 30 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.

उपद्रवियों से झड़प के दौरान एडिशनल एसपी सहित 31 जवान घायल हुए हैं, जबकि 4 सिपाहियों को गंभीर चोटें आई हैं थी.

इस हुड़दंग के बाद शनिवार को विश्व हिन्दु परिषद् और बजरंग दल की ओर से जुलूस निकाला गया और गिरफ्तार किए गए करीब 200 कार्यकर्ताओं को रिहा करने की मांग रख दी.

कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन के बाद जिला कलेक्टर को ज्ञापन देने गए प्रतिनिधिमंडल ने इस दौरान करीब दो घंटे तक कलेक्टर का घेराव किया और गिरफ्तार किए सभी हिन्दू कार्यकर्ताओं को रिहा करने की मांग पर अड़ गए.

करीब दो घंटे तक चली वार्ता के बाद प्रशासन ने 132 लोगों को जमानत पर रिहा करने और अन्य 75 युवाओं को कोर्ट में पेश करने की सहमति दी. वहीं इस दौरान कलेक्ट्रेट के बाहर भारी पुलिस बल तैनात रहा. इस मामले में पुलिस ने 153 लोगों को एडीएम सिटी के समक्ष जमानत के लिए पेश किया गया. जिसमें सभी को निजी मुचलके पर रिहा कर दिया है. इस मामले में बचे हुए अन्य 53 लोगों को शनिवार को पुलिस द्वारा कोर्ट में पेश किया जाएगा.

पुलिस ने उदयपुर और राजसमंद जिले में धारा 144 अगले 48 घंटे के लिए और बढ़ा दी है. साथ ही अगले 48 घंटे तक इन दोनों जिलों में इंटरनेट पर भी पाबंदी रहेगी.

Top Stories