Monday , July 23 2018

VIDEO: जम्मू-कश्मीर में बीजेपी के आने से मुसलमान असहज थे- महबूबा मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर में भाजपा ने पीडीपी से अपना समर्थन वापस ले लिया है। समर्थन वापस लेते ही महबूबा मुफ्ती ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। सरकार गिरने के बाद पहली बार महबूबा मुफ्ती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

महबूबा मुफ्ती ने एक तरफ जहां भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया। वहीं अपनी पार्टी की उपलब्धियां गिनाई। मुफ्ती ने कहा कि राज्य को मुसीबत से बाहर निकालने के लिए हमने गठबंधन किया था। बड़े विजन के साथ गठबंधन किया था। 11 हजार नौजवानों के खिलाफ केस वापस लिए।

पाकिस्तान से अच्छा रिश्ते बनाने की कोशिश की। हमने तीन साल तक राज्य में आर्टिकल 370 को बचाने की कोशिश की। 370 को लेकर लोगों के अंदर डर को दूर किया। लेकिन इस दौरान हमारे समाने कई सारी चुनौतियां भी आईं।

मुफ्ती ने कहा कि भाजपा के आने से मुसलमान असहज थे। महबूबा मुफ्ती ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर में डराने धमाकाने की नीति नहीं चलेगी।

सालों बाद जम्मू कश्मीर के लोग शांति से जी रहे थे। कश्मीर मुद्दे को ताकत से नहीं सुलझा सकते हैं। हम चाहते हैं कि राज्य की बेहतर स्थिति के लिए जनता और पाकिस्तान से बातचीत होनी चाहिए। हम किसी के साथ सरकार नहीं बनाएंगे।

TOPPOPULARRECENT