Tuesday , September 25 2018

VIDEO: पाकिस्तान की पहली हिन्दू महिला सीनेटर बनी कृष्णा कोहली, रचा इतिहास!

पाकिस्तान की राजनीति में एक हिंदू महिला ने इतिहास रच दिया। वहां की संसद में हिंदू महिला कृष्णा कोहली को सीनेटर चुन लिया गया है। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) ने कृष्णा को सिंध से अपना उम्मीदवार बनाया था। कृष्णा बहुत ही गरीब दलित परिवार से ताल्लुक रखती हैं।

कृष्णा का जन्म1979 में सिंध के नगरपारकर जिले के एक गांव में हुआ था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कृष्णा कोहली के दादा कृष्णा कोहली के दादा रूपलो कोहली ने 1857 के गदर में अंग्रेजों के खिलाफ कूद पड़े थे।

उन्होंने अंग्रेजों के खिलाफ जंग लड़ी और आजादी के संघर्ष में बड़ा योगदान दिया। जबकि कृष्णा कोहली के पिता जुगनू कोहली काफी गरीब थे और मजदूरी करके अपना गुजारा करते थे। इसके चलते रखूखदार जमींदारों ने उनका काफी शोषण भी किया।

पाकिस्तान के जाने माने पत्रकार हामिद ने ट्वीट कर कृष्णा को बधाई भी दी, उन्होंने लिखा कि गरीब हिंदू महिला सीनेटर चुनी गईं। वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली दलित हिंदू महिला हैं।

इसका श्रेय बिलावल भुट्टो को जाता है। 16 साल की उम्र में ही कृष्णा का विवाह हो गया था, लेकिन, कृष्णा ने शादी के बाद भी पढ़ाई जारी रखी। उन्होंने सिंध यूनिवर्सिटी से सोशल सर्विस में मास्टर डिग्री हासिल की है।

पाकिस्तान की पहली महिला प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो, पहली महिला विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार और पाकिस्तान की राष्ट्रीय एसेंबली की पहली महिला स्पीकर फहमिदा मिर्जा भी पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी से रह चुकी हैं।

पाकिस्तान का एक प्रमुख राजनैतिक दल है। इसकी विचारधार गणतांत्रिक समाजवाद है। इसकी स्थापना ज़ुल्फ़िकार अली भुट्टो ने नेतृत्व में हुई थी।

उसी समय से इस पार्टी का नेता हमेशा कोई भुट्टो-ज़रदारी परिवार का सदस्य ही रहा है। पार्टी का केंद्र पाकिस्तान के दक्षिणी सिंध प्रान्त में है, जहाँ भुट्टो परिवार की जड़ें हैं।

TOPPOPULARRECENT