VIDEO: फलस्तीन की तरफ़ से इजरायल पर अब तक का सबसे बड़ा हमला, दोनों तरफ़ बड़ी तबाही!

VIDEO: फलस्तीन की तरफ़ से इजरायल पर अब तक का सबसे बड़ा हमला, दोनों तरफ़ बड़ी तबाही!

इजरायल की लगातार गलतीयों ने उस खतरनाक और खौफ़ के जगह पर पहुंचा दिया है। फलस्तीन पर उसके जुल्मों ने पुरी दुनिया को हिलाकर रख दिया है। कहा तो यह भी जा रहा है कि इजरायल अब आखरी ज़ंग लड़ने के मुहाने पर खड़ा है।

रिपोर्ट के मुताबिक इजरायल पर अब तक का सबसे बड़ा हमला हुआ है। इजरायल ने दावा किया है कि यह हमला फलस्तीन के तरफ़ से की गई है। उसके दावों के मुताबिक करीब 400 से ज्यादा रॉकेट एक के बाद एक दागे गए हैं।

इस हमले को फलस्तीनी संघर्षकरताओं की तरफ़ से इजरायल पर जवाबी कार्रवाई मानी जा रही है। आपको बता दें कि इससे पहले इजरायल की तरफ से गाज़ा पट्टी पर हमला किया गया था जिसमें सात मासूम फलस्‍तीनीयों की मौत हो गई थी।

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच तनाव पिछले कुछ दिनों से हिंसक हो गई है। अब इसके और भीषण होने की आशंका है। फिलिस्तीन की तरफ से दागे गए रॉकेटों से दक्षिण इजरायल में एक इमारत ध्वस्त हो गई है।

इस हमले में एक शख्स की मौत भी हो गई है। 2014 के गाजा वॉर के बाद इजरायल पर यह अबतक का सबसे बड़ा हमला है। जवाब में इजरायली सेना भी गाजा में फिलिस्तीनी संघर्षकरताओं को निशाना बना रही है।

इजरायल का दावा है कि सोमवार दोपहर के बाद उस पर गाजा की तरफ करीब 370 रॉकेट दागे गए, जिनमें से करीब 100 को इंटरसेप्ट कर नाकाम कर दिया। दरअसल, इजरायली विशेष बलों के गाजा पट्टी में घातक अभियान चलाने के बाद से गाजा से ये रॉकेट दागे जा रहे हैं। इजरायली सेना का कहना है कि गाजा की तरफ से प्रति मिनट एक से ज्यादा रॉकेट दागे जा रहे हैं।

सेना ने रॉकेट हमले का एक वीडियो भी जारी किया है। मंगलवार को गाजा की तरफ से दागा गया एक रॉकेट दक्षिणी इजरायल में एक अपार्टमेंट बिल्डिंग पर गिरा। इजरायल के मेडिकल सर्विसेज ने इस हमले में एक शख्स की मौत की पुष्टि की है। हमले में एक महिला भी घायल हुई है, जिसकी हालत गंभीर है।

गाजा पट्टी में मंगलवार को इजरायली हवाई हमले में हमास की ‘अल-अक्सा टीवी’ की इमारत ध्वस्त हो गई। इमारत को हवाई हमले में ध्वस्त करने से पहले इजरायल ने चेतावनी भरे सिलसिलेवार हमले किए थे, जिसके बाद वहां काम कर रहे लोगों को इमारत से बाहर निकाल लिया गया था। इजरायल और फिलिस्तीनी संघर्षकरताओं के बीच हिंसा भड़कने के बाद यह हमला किया गया।

Top Stories