Saturday , December 16 2017

VIDEO: मोदी का ‘न खाऊंगा न खाने दूंगा’ का नारा निकला झूठा, मोदी की खुली पोल!

मोदी सरकार जब से सत्ता में आई है हमेशा से ही कहती आ रही है कि वह बहुत ही पाक़-साफ़ और भ्रष्टाचार मुक्त सरकार है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि वह न खायेंगे न खाने देंगे. लेकिन अब उनका यह नारा झूठा साबित हुआ है.

कैग रिपोर्ट के अनुसार, पीएम नरेन्द्र मोदी पर भ्रष्ट्राचार का आरोप है, सरकारी कंपनी GUVNL ने पावर परचेज़ एग्रीमेंट तोड़ दिया.

मोदी सरकार पर आरोप है कि उसने दक्षिण गुजरात की स्टील कंपनी को 238.5 करोड़ रुपए का फायदा पहुचाया है.

कंपनी ने 734 स्क्वायर मीटर सरकारी ज़मीन पर कब्ज़ा किया था जिसे मार्किट रेट से कम दाम पर लीगल बना दिया गया.

हजीरा में सस्ते दामों पर एक दूसरी कंपनी को भी ज़मीन देने का आरोप है, वहीँ दो और गैर क़ानूनी ट्रस्ट को कौड़ियों के दाम में ज़मीन बांटी गयी है.

सरकारी निवेश पर 5 साल में सिर्फ 0.25 फीसदी का फ़ायदा हुआ है. औद्योगिक घरानों को पहुचाने के लिए सरकारी खजाने को 1 हज़ार करोड़ रुपए का चूना लगाया गया है.

विडियो में देखें कैग की पूरी रिपोर्ट:

TOPPOPULARRECENT