Saturday , July 21 2018

VIDEO: हाइपोथायोरिजम में नारियल तेल और पानी कितना फायदेमंद है, बता रहे हैं ‘डॉ अलेन’

नारियल का पानी या इसके तेल कितने फायदेमंद होते हैं यह हम सभी जानते हैं। सेहत के मामले में यह कुछ बिमारीयों में जादू की तरह काम करता है। आइये हम आपको इस विडियो के जरिए बताने की कोशिश करते हैं कि हाइपोथायरॉइडिज्म की स्थिति में यह कैसे जादू की तरह काम करता है।

इस विडियो में डॉ अलेन बता रहे हैं कि इस बिमारी में कैसे नारियल के तेल से फायदा ले सकते हैं। इस बिमारी की स्थिति में शरीर का वजन बढऩे लगता है लेकिन भूख कम लगती है। हाथ पैरों में सूजन आ जाती है। आलस्य की वजह से कुछ काम करने का मन भी नही करता। ठंड भी ज्यादा लगती है।

ऐसी अवस्था में मरीज का वजन कम हो जाता है और बार-बार भूख का अहसास होता है। थायराइड की समस्या महिलाओं को अधिक होती है। दरअसल थायराइड नामक एक ग्रंथि जिसमें थायरॉक्सि हॉर्मोन स्त्रावि होता है, इसी हार्मोन की मात्रा कम या ज्यादा होने से ये समस्या होती है।

आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आजमाकर आप इस समस्या से अपने आप को बचा सकते हैं।

थायरॉइड के मरीज को आयोडीन युक्त खाद्य पदार्थो का अधिक सेवन करना चाहिये। प्याज, जौ, अनन्नास, लहसुन, गाजर, मशरुम, टमाटर, हरी मिर्च, स्ट्रॉबेरी आदि में प्रचुर मात्रा में आयोडीन होता है।मिर्च-मसाले, चावल, मैदा, मलाई, अंडा और नमक का अधिक प्रयोग न करें।

नारियल का तेल और नारियल पानी का सेवन इस बीमारी में बहुत ही लाभकारी है। योग को अपनाकर भी थायराइड की समस्या से राहत मिल सकती हैं इसके लिये प्रतिदिन भुजंगासन, मत्सयासन, सर्र्वांगासन और नाड़ीशोधन करना चाहिये।

तले हुये खाद्य पदार्थो, चीनी, चाय, कॉफी, शराब आदि का सेवन नही करना चाहिये। पानी प्रचुर मात्रा में पियें। दूध, दही और पनीर का प्रयोग अधिक से अधिक करें।

सूखे मेवों में अखरोट और बादाम का सेवन करना फायदेमंद होता है।जंक फूड , फास्ट फूड, ब्रोकली, फूलगोभी, बंदगोभी, मूली आदि का सेवन बिल्कुल बंद कर दें।

TOPPOPULARRECENT