Tuesday , September 25 2018

VIDEO- पश्चिम बंगाल में गौरक्षकों द्वारा की गई तीन मुस्लिम युवकों की हत्या जो सुर्ख़ियों में नहीं आई

कोलकाता। जून 2017 में एक हिंदुत्व संगठन के गुंडों ने मोहम्मद नसीरुद्दीन, नसीरुल हक और मोहम्मद समीरुद्दीन को दुर्गापुर में मार दिया था लेकिन यह घटना सुर्ख़ियों में नहीं आई थी। एक रिपोर्ट के अनुसार जून 2017 में दुर्गापुर के चोपड़ा पुलिस स्टेशन के पास तीन मुस्लिम युवकों की हत्या कर दी गई थी।

कारवां-ए-मोहब्बत के हर्ष मंदर, जॉन दयाल और अन्य मोहम्मद नसीरुद्दीन के पिता असीन मोहम्मद से मिले थे। तीन परिवारों में से किसी को भी किसी भी तरह का मुआवजा नहीं मिला। इस सम्बन्ध में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था जो पंद्रह दिन हिरासत में रहने के बाद जमानत पर छूट आये थे।

वहीँ, पिछले साल अगस्त में पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी ज़िले में गौ आतंकियों ने एक और हिंसक वारदात को अंजाम दिया था। यहां दो मुस्लिम युवकों को गाय चोरी के शक में मार दिया गया था और यह घटना पूरे देश में सुर्ख़ियों में रही। पीड़ितों की पहचान हाफिजुल शेख और अनवर हुसैन के रूप में की गई थी।

TOPPOPULARRECENT