Sunday , April 22 2018

VIDEO: भारत में ईसाइयों के खिलाफ़ हिंसा के लिए कैसे रचे जाते रहे हैं साजिश?- राम पूनियानी

प्रोफेसर राम पूनियानी ने अपने नये विडियो में ईसाइयों पर हुए जुल्म की घटनाओं का जिक्र किया। राम पुनियानी ने कहा कि दिसंबर 2017 का महिना जो उत्साहजनक होता है वो कैसे दुखद हो गया। अलीगढ़ कि घटना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कैसे एक इसाई धर्म से संबंधित गाने वाले गायक को कुछ देर के लिए जेल में बंद कर दिया गया।

राजस्थान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कैसे विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने क्रिसमस के जश्न की जगह पर जाकर तोड़फोड़ की। उन्होंने आगे कहा कि देश के विभिन्न जगहों पर से भी इस तरह की खबरें आई जहां इसाईयों को डराया धमाकाया गया।

क्रिसमस मनाने से रोका गया। इस तरह की घिनौनी हरकत हमारे देश में बहुत चिंता का विषय है। उन्होंने कहा कि इस देश में अलग अलग समाजिक पर्वों का पालन करना, ये हमारी परम्परा रही है। चाहे वह दिवाली हो ईद हो या क्रिसमस।

सभी लोग इसे स्वीकार किया करते हैं। उन्होंने आगे कहा कि इस वक्त इसाईयों के खिलाफ़ हिंसा है जो दिख रही है। उन्होंने एक घटना का जिक्र किया जो इसाईयों के प्रति 1995 में हिंसा की शुरुआत हुई थी।

इसाईयों के खिलाफ़ हिंसा का जिक्र करते हुए देश के विभिन्न राज्यों का हवाला देते हुए प्रोफेसर राम पूनियानी ने बताया कि जो लोग लिप्त रहे हैं इन घटनाओं में वो बजरंग दल या किसी भी हिंदूवादी संगठन से जुड़े रहे हैं। इस तरह की हिंसा ज्यादातर दिसंबर में ही किया जाता है।

उन्होंने कहा कि ऐसे तो इस तरह की घिनौनी हरकतों को बराबर अंजाम दिया जाता है लेकिन दिसंबर में ज्यादा देखा जाता रहा है।इस तरह की घिनौनी हरकतों के जरिए ईसाईयों के खिलाफ़ हिंसा के लिए रचा जा रहा है साजिश।

TOPPOPULARRECENT