पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या बगैर अमेरिकी समर्थन के मुमकिन नहीं है- हसन रुहानी

पत्रकार जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या बगैर अमेरिकी समर्थन के मुमकिन नहीं है- हसन रुहानी

सऊदी पत्रकार जमाल खशोगगी की “जघन्य हत्या” बुधवार को ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा, “अमेरिकी समर्थन के बिना” असंभव होगा। रौनी ने राज्य टेलीविजन पर प्रसारित कैबिनेट की टिप्पणी में कहा, “मुझे नहीं लगता कि कोई भी देश अमेरिकी समर्थन के बिना ऐसी चीज करने की हिम्मत करेगा।”

रूहानी ने कहा कि खशोगगी की हत्या से पहले “यह असंभव होगा कि इस दिन और उम्र में हम इस तरह के एक संगठित अपराध को देखेंगे। “यह बेहद महत्वपूर्ण है कि एक संस्थान ने इस तरह की जघन्य हत्या की योजना बनाई।

“जनजातीय समूह जो कि सत्तारूढ़ है कि उस देश (सऊदी अरब) में सुरक्षा मार्जिन है। वह सुरक्षा मार्जिन यह है कि यह यूएस समर्थन पर निर्भर करता है। यह वह महाशक्ति है जो उनका समर्थन कर रही है। ”

अमेरिका में आत्मनिर्भर निर्वासन में रहने वाले एक सरकारी आलोचक खशोगगी को 2 अक्टूबर को इस्तांबुल में सऊदी वाणिज्य दूतावास के अंदर हत्या कर दी गई थी क्योंकि उन्होंने अपने विवाह के लिए अपने तुर्की मंगेतर के लिए कागजी कार्य का आयोजन किया था।

Top Stories