Monday , December 18 2017

सिनेमाघर कोई स्कूल नहीं जिसमें दिन की शुरुआत राष्ट्रगान से की जाये: विद्या बालन

सिनेमाघरों में फिल्म की शुरुआत से पहले राष्ट्रगान के बजने पर बहस काफी दिनों से चल रही है| यह मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है| पिछले दिनों इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई भी हुई जिसमें कोर्ट ने यह मामला केंद्र सरकार पर डाल दिया| देशभर में इस मामले को लेकर काफी बहस छिड़ी हुई है  कई लोगों ने इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रियाएं दी अब अभिनेत्री  विद्या बालन  भी इस विवाद में कूद पड़ी हैं। इस मुद्दे पर अपनी राय देते हुए विद्या ने कहा कि देशभक्ति ज़बरदस्ती किसी पर थोपी नहीं जा सकती।

उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान कहा, कि आप स्कूल में नहीं हैं जहाँ आपको राष्ट्रगान से शुरुआत करनी चाहिए| इसलिए मुझे नहीं मुझे नहीं लगता कि फिल्मों से पहले राष्ट्रगान बजाया जाना चाहिए। उन्होंने आगे अपनी बात को जारी रखते हुए कहा कि उन्हें अपने देश से प्यार है और इसकी रक्षा के लिए किसी भी हद तक जा सकती हैं। और मैं जब राष्ट्रगान सुनती हूं कहीं भी रहूं, खड़ी हो जाती हूं। लेकिन सिनेमाघरों में यह सही नहीं है हालाँकि उन्होंने कहा कि यह मेरा व्यक्तिगत मानना है|

पिछले कुछ वक्त से ही सिनेमाघरों में किसी भी फिल्म की शुरुआत से पहले राष्ट्रगान बजाने का नया नियम लागू किया गया है। इस पर अब कुछ समय से काफी बहस जारी है।

 

TOPPOPULARRECENT