Tuesday , November 21 2017
Home / Entertainment / एक बिमारी और एक ही तारीख को हुई विनोद खन्ना-फिरोज खान की मौत, दोनों के बीच थी गहरी दोस्ती

एक बिमारी और एक ही तारीख को हुई विनोद खन्ना-फिरोज खान की मौत, दोनों के बीच थी गहरी दोस्ती

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता विनोद खन्ना 70 साल की उम्र में 27 अप्रैल को इस दुनिया को अलविदा कह गए। उन्होंने मुंबई में स्थित सर एच एन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में आखिरी सांस ली। विनोद खन्ना ने 1968 में आई फिल्म ‘मन का मीत’ से अपने करियर की शुरुआत की थी।

हालांकि उनकी यह फिल्म पर्दे पर कोई खास कमाल नहीं दिखा पाई। लेकिन इसी फिल्म के केवल एक हफ्ते बाद ही उन्होंने करीब 15 फिल्मों के लिए साइन किया। वह अपने फिल्मी करियर में 141 फिल्मों में अभिनय कर चुके थे।

इस दौरान उन्हें मुख्य कलाकार के अलावा सपोर्टिंग एक्टर और खलनायक तक का किरदार निभाते हुए देखा जा चुका है। शुरुआती कुछ सालों में उन्हें पहचान हासिल नहीं हो पाई थी। लेकिन 1980 में दिवंगत अभिनेता फिरोज खान के निर्देशन में बनी फिल्म ‘कुर्बानी’ ने उन्हें रातों रात स्टार बना दिया।

इस फिल्म में फिरोज खान ने अभिनय करने के साथ वह इसके निर्माता और निर्देशक भी रहे थे। फिल्म की सफलता के बाद विनोद खन्ना और फीरोज खान गहरे दोस्त बन गए। इससे पहले दोनों 1978 में आई फिल्म ‘शंकर शंभू’ में भी नजर आ चुके थे।

‘कुर्बानी’ के बाद इनकी जोड़ी 1988 में दयावान’ में भी दिखी। इनकी दोस्ती इतनी गहरी थी कि दोनों ने दुनिया को अलविदा कहने के लिए भी एक ही दिन चुना। जी हां, फिरोज खान ने 27 अप्रैल, 2009 को अंतिम सांस ली थी।

इसे लेकर दिग्गज अभिनेता और कॉमेडियन अली असगर ने ट्वीट भी किया है।

उन्होंने लिखा, “विनोद खन्ना को श्रद्धांजलि, उनके साथ एक युग का अंत हो गया। फ़िरोज़ रोज खान को भी उनकी पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि।

TOPPOPULARRECENT