हम हिन्दू हैं और जामिया में सुरक्षित हैं, हिन्दू छात्रों का कैंपस में प्रदर्शन

हम हिन्दू हैं और जामिया में सुरक्षित हैं, हिन्दू छात्रों का कैंपस में प्रदर्शन
Click for full image

नई दिल्ली: पिछले दो दिन पहले जामिया मिल्लिया इस्लामिया के गेट नंबर 7 के सामने बदमाश तत्वों के जरिये लगाए जाने वाले नारों और पोस्टरबाज़ी ने जिस में कहा गया था कि हिन्दू जामिया मिल्लिया इस्लामिया में सुरक्षित नहीं है, इस अभियान का जनाज़ा महज़ 24 घंटे के बीच ही निकल गया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

भगवाधारी घटिया फ़िक्र का जनाज़ा निकालने वाले कोई और नहीं खुद जामिया मिल्लिया इस्लामिया के वह मानवतावादी गैर मुस्लिम छात्र हैं जो अपने मुस्लिम दोस्तों के साथ रहते हैं और शिक्षा हासिल करते हैं। जामिया का माहौल खराब करने वालों को करारा जवाब देते हुए जामिया के छात्र व छात्राएं ने एकजुटता का इज़हार करते हुए हाथों में स्वयं लिखित तख्ती उठा रखी थी जिसपर लिखा हुआ था कि मैं विनीता पांडे हूँ और मैं जामिया में खुद को सुरक्षित समझती हूँ।

इसी तरह विश्व जीत ने लिखकर बताया कि मैं हिन्दू हूँ और जामिया में खुद को पूरी तरह सुरक्षित समझता हूँ, कुछ ऐसा ही जामिया के छात्र यदवराज और मुकुंद झा ने भी लिखा है और इस तरह के बहुत से छात्रों ने एकजुट का इज़हार किया है।

Top Stories