आज़म खान बोले- ‘हमें हक़ था हम पाकिस्तान जाएं, लेकिन हम नहीं गये’

आज़म खान बोले- ‘हमें हक़ था हम पाकिस्तान जाएं, लेकिन हम नहीं गये’

समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने सोमवार को लोकसभा में केंद्र सरकार और भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने अल्पसंख्यक समुदाय से जुड़े कई विषयों पर केंद्र सरकार को घेरने की कोशिश की।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, आजम खान ने कहा कि 1947 में हमें हक था कि पाकिस्तान जाएं, पर नहीं गए। हम अपनी मर्जी से रुके थे। पर आज कहा जा रहा है। जो वंदे मातरम कहेगा वही रहेगा। सुप्रीम कोर्ट कहता है कि वंदे मातरम जरूरी नहीं।

आजम खान ने कहा कि लोकतंत्र का बचना जरूरी है। तीन तलाक हमारा व्यक्तिगत मामला है। जो कुरान कहेगा वही मान्य होगा। बाकी कुछ नहीं। महिलाओं के हमदर्द सबरीमाला में कहां हैं।

आजम खान ने आगे कहा कि हम आज भी एक ही मोहल्ले में रहते है। हमें डर नहीं लगता। मैंने आपसे नहीं कहा कि आप कलमा नहीं पढ़ सकते। अगर आप जबरदस्ती करेंगे तो कहिए कि हम जबर्दस्ती करेंगे। हिन्दुतान एक बेहतरीन देश है इसे रहने दिया जाय।

पीएम को सभा में मेरी भैसों का ख्याल रहा पर मेरा ख्याल न रहा। मुंशी प्रेमचंद की जुबान उर्दू, इस देश की जुबान उर्दू, उर्दू मुसलमान की जबान नहीं बल्कि फ़ारसी है। ये बताना पड़ेगा सदन को, गोरखपुर में बच्चों की मौते क्यों हो गई। आप कमीशन बनाएं, प्रशासन ने लोगो को मारा है। 15 दिन तांडव किये। बोला कि वोट देने नहीं जाओगे।

Top Stories