गुजरात में फिर एक दलित युवक पर हमला, विरोध में दलितों ने ‘मूँछ’ को लगाया व्हाट्सऐप डीपी

गुजरात में फिर एक दलित युवक पर हमला, विरोध में दलितों ने ‘मूँछ’ को लगाया व्हाट्सऐप डीपी
Click for full image

गुजरात के गांधीनगर में कल शाम कुछ अज्ञात लोगों ने गांव में एक दलित किशोर पर ब्लेड से हमला कर दिया। इससे पहले भी यहाँ के सवर्ण लोगों ने मूंछे रखने के लिए दो दलितों की पिटाई कर दी।

अब इसके विरोध में आसपास के गाँव के करीब 300 दलितों ने अपने व्हाट्सऐप की डिस्प्ले फोटो पर मूँछ का लोगो लगाया है जिस पर “मिस्टर दलित” लिखा हुआ है और राजमुकुट का चिह्न बना हुआ है।

25 सितंबर को 24 वर्षीय दलित युवक पीयूष परमार पर कथित तौर पर सवर्णों द्वारा मूँछ रखने की वजह से हमला हुआ तो वो भी वहां मौजूद था उसे भी मारापीटा गया था। इस मामले में पुलिस थाने में एससी और एसटी उत्पीड़न एक्ट के तहत पुलिस में एफआईआर दर्ज कराई गई है।

इसके बाद 29 सितंबर को कुणाल महरेजा नामक दलित युवक पर मूँछ रखने की वजह से हमला हुआ। कुणाल एक निजी टेलीकॉम कंपनी में काम करता है।

कल ऐसी ही एक अन्य घटना गांधीनगर के लिम्बोदरा गांव में शाम को करीब 5.30 बजे हुई। किशोर स्कूल से वापस आ रहा था तभी कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया।

मंगलवार को घायल हुए 17 वर्षीय किशोर की बहन काजल ने बताया, दो अज्ञात लोगों द्वारा हमला किये जाने के बाद उसका भाई घर भागते हुए आया। उसकी पीठ से खून बह रहा था। हमने तुरंत उसे गांधीनगर के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया। उसपर ब्लेड से हमला किया गया है।

काजल ने कहा कि ये है हो गई है कि हम अपने गाँव में ही सुरक्षित नहीं हैं। गांधीनगर के पुलिस एसपी वीरेंद्र सिंह यादव ने कहा, “हम मामले की पड़ताल कर रहे हैं। हम ये सुनिश्चित करेंगे कि कोई भेदभाव नहीं हो।

Top Stories