आसाराम को उम्रकैद क्‍यों दी गयी, फांसी की सजा क्‍यों नहीं- राखी सावंत

आसाराम को उम्रकैद क्‍यों दी गयी, फांसी की सजा क्‍यों नहीं- राखी सावंत
Click for full image

अभिनेत्री राखी सावंत को इस बात की खुशी है कि नाबालिग के साथ दुष्‍कर्म को लेकर आसाराम को दंड दिया गया लेकिन उन्‍हें इस बात का ताज्‍जुब है कि उसे केवल उम्रकैद मिली। राखी ने जोधपुर कोर्ट के फैसले पर सवाल उठाया है और कहा, ‘आसाराम को केवल उम्रकैद क्‍यों दी गयी, फांसी की सजा क्‍यों नहीं।‘

2013 में नाबालिग से दुष्‍कर्म के जुर्म में जोधपुर अदालत ने बुधवार को आसाराम को दोषी करार दिया और उम्रकैद की सजा दी। राखी ने कहा, ‘देश में इस तरह का अपराध करने वालों के लिए यह अच्‍छा उदाहरण है विशेषकर उनके लिए जिन्‍हें लगता है कि वे अमीर और शक्‍तिशाली हैं और वे महिलाओं व बच्‍चों के साथ कुछ भी कर सकते हैं। लेकिन इस मामले में मौत की सजा क्‍यों नहीं। लड़की नाबालिग है… बच्‍चों के दुष्‍कर्मियों के लिए जमानत नहीं, जिंदगी नहीं।‘

जब कोई सम्‍माननीय व्‍यक्‍ति जैसे अंकल या आध्‍यात्‍मिक गुरु किसी लड़की के साथ दुर्व्‍यवहार करता है तब उसका सबसे कीमती चीज लुटता है मानवता से उसका विश्‍वास खत्‍म हो जाता है।
निर्माता प्रीतिश नंदी ने ट्वीट किया: और न्‍याय हो गया। नाबालिग से दुष्‍कर्म मामले में अंतत: आसाराम को उम्र कैद की सजा दी गयी। अभिनेता राहुल देव कहते हैं: हिम्‍मत और साहस के साथ न्‍याय के लिए लड़ने वाले पीड़ित परिवार को सलाम करता हूं।‘ फरहान अख्‍तर ने लिखा: आसाराम चाइल्‍ड रेपिस्‍ट है। और वह दोषी पाया गया है। अच्‍छा है लेकिन क्‍या लोग प्रधानमंत्री मोदी के साथ उसकी तस्‍वीर को शेयर करना बंद कर सकते हैं।

Top Stories