अमेरिका को 9/11 जैसी हमले की पुनरावृत्ति होने का साता रहा है डर

अमेरिका को 9/11 जैसी हमले की पुनरावृत्ति होने का साता रहा है डर

वाशिंगटन : अमेरिका और नाटो सेना के संयुक्त चीफ के अध्यक्ष जनरल जोसेफ डनफोर्ड ने कहा, अफगानिस्तान से अमेरिका और नाटो सेनाओं के बाहर होने से आतंकवादी समूहों को उस देश में पुनर्निर्माण का अवसर और क्षमता मिल जाएगी और 11 सितंबर, 2001 जैसे संयुक्त राज्य अमेरिका के खिलाफ हमलों की क्षमता विकसित करने में मदद मिलेगी।

डनफोर्ड ने गुरुवार को वाशिंगटन पोस्ट अख़बार में एक बैठक में कहा, “अफगानिस्तान छोड़ने से आतंकवादी समूहों को वह जगह मिल जाएगी, जहां हम अमेरिकी मातृभूमि और उसके सहयोगियों के खिलाफ संचालन कर रहे हैं।” डनफोर्ड ने कहा कि आतंकवादियों के इस क्षमता का आकलन अमेरिकी खुफिया सेवाओं द्वारा किया गया है। उन्होने कहा “यह हमारा आकलन है कि कुछ समय में आतंकवादी समूह को भविष्य में अमेरिका पर 9/11 जैसे हमले करने की क्षमता हो जाएगी।”

गौरतलब है कि 11 सितंबर, 2001 को अमेरिका में लगभग 3,000 लोग मारे गए थे जब अल-कायदा ने चार अमेरिकी एयरलाइंस को अपहरण कर लिया और उनमें से दो को विश्व व्यापार केंद्र के ट्विन टावर्स और उत्तरी वर्जीनिया में पेंटागन भवन में हमला किया था। डनफोर्ड ने कहा कि जारी अमेरिका और सहयोगी प्रतिबद्धता ने देश में तालिबान गुरिल्ला बलों के साथ एक अफगान नेतृत्व वाली सुलह प्रक्रिया के उभरने का समर्थन किया था।

Top Stories