इस देश की संसद में 50% महिलाएं, PM अहमद ने कहा- हमने साबित किया की महिलाएं लीडर बन सकतीं हैं

इस देश की संसद में 50% महिलाएं, PM अहमद ने कहा- हमने साबित किया की महिलाएं लीडर बन सकतीं हैं
Click for full image

अफ्रीकी देश इथियोपिया एक  अच्छी खबर की वजह से चर्चा में है. इथियोपिया में पहली बार किसी महिला को रक्षामंत्री चुना गया है. और इसके साथ ही इथियोपिया के कैबिनेट में महिलाओं की मौजूदगी 50 प्रतिशत तक पहुंच गई है. इथियोपिया की कैबिनेट में 20 मंत्री पद हैं, जिनमें से आधे पर महिला मंत्री काबिज हैं.

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इथियोपिया के सुधारवादी प्रधानमंत्री अबिय अहमद ने आइशा मोहम्मद मूसा को इस पद के लिए नॉमिनेट किया था. मंगलवार को यहां सांसदों ने उनके नाम पर मुहर लगा दी. प्रधानमंत्री अहमद ने कहा, ‘हमारी महिला मंत्री इस पुरानी धारणा को खत्म कर दिया कि महिलाएं लीडर नहीं बन सकतीं. ऐसा फैसला इथियोपिया के इतिहास और शायद अफ्रीका के इतिहास में पहली बार लिया गया है.’

बता दें कि इथियोपिया में हमेशा से पितृसत्तात्मक समाज रहा है. जिसकी अपने हिस्से की आलोचना भी होती रही है. यूएन में एक रिपोर्ट में कहा गया था कि इथोपिया में स्वास्थ्य, शिक्षा, नौकरी और मूल मानवाधिकार जैसे क्षेत्रों में भी महिलाओं के खिलाफ बहुत लिंगभेद और असमानता है.

लेकिन 42 साल के प्रधानमंत्री अबिय अहमद के सत्ता में आने के बाद से इथोपिया में राजनीतिक और आर्थिक सुधारों की लहर आ गई है.

इसी तरह कुछ यूरोपीय देश भी हैं, जहां की कैबिनेट में 50 प्रतिशत या उससे ज्यादा महिला मंत्रियों की मौजूदगी है. इस दिशा में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों और कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने अपने-अपने कैबिनेट को ‘जेंडर बैलेंस्ड’ करने की कोशिश की है. एक दूसरे अफ्रीकी देश रवांडा में भी कैबिनेट में महिला मंत्रियों की मौजूदगी 43 प्रतिशत है और यहां की संसद में तो 61 प्रतिशत महिला सांसद हैं.

इथियोपिया के बहाने इन देशों की बात इसलिए भी क्योंकि इनकी हालत भारत से बहुत बेहतर है. भारत में 26 कैबिनेट मंत्रियों में से बस 6 पद महिला मंत्रियों के पास हैं. वो भी तब जब सदन में महिलाओं के आरक्षण पर बिल तक 20 साल पहले पास हो चुका है.

 

Top Stories