Tuesday , April 24 2018

इस भारतीय मुस्लिम शख्स की मदद से भारत लाया गया श्रीदेवी का पार्थिव शरीर

बॉलीवुड अभिनेत्री श्रीदेवी का पार्थिव शरीर जब संयुक्त अरब अमीरात के एक साधारण से मोर्चरी (शवगृह) में रखा हुआ था तब सिर्फ एक आदमी ने श्रीदेवी के शव को वापस भारत भेजने में मदद की थी और वह शख्स हैं केरल के रहने वाले ‘अशरफ’. दरअसल, वह लोगों को दुबई में होने वाली कानूनी कागजी कारवाई में सहायता करते हैं.

दुबई में रहने वाले अशरफ शेरी थामारासरी  हैं जो अमीरात में मरने वाले लोगों को स्वदेश भेजने में मदद करते हैं. 44 वर्षीय अशरफ थामारासरी ने कर्ज के तले डूबे मजदूरों से लेकर अमीरों तक 4,700 शवों को विश्व के 38 देशों तक भेजने में मदद की है. वह इसे उन लोगों के प्रति अपनी नैतिक जिम्मेदारी मानते हैं जिन्हें अपना घर छोड़कर इस रेगिस्तानी देश में रहना पड़ता है.

मंगलवार की रात श्रीदेवी के शव के साथ-साथ 5 अन्य लोगों के शवों को भी उनके देश वापस भेजने में उन्होंने सहायता की थी. अशरफ सरकारी मोर्चरी में जाकर वहां के अधिकारियों को सभी जरुरी दस्तावेज सौंपे. इसके बाद श्रीदेवी के शव को भारत लाया जा सका. अशरफ के मुताबिक‘चाहे दुबई हो, शारजांह या फिर कोई भी अरब देश…गरीब हो या अमीर, उनके लिए सभी समान हैं.’

उनका कहना है कि वह यह सब दुआ हासिल करने के लिए करते हैं लेकिन इसलिए भी करते हैं कि जब यहां किसी की मौत होती है तो लोगों को स्वदेश भेजने की प्रक्रिया के बारे में ठीक से पता नहीं होता है.

 

TOPPOPULARRECENT