जामिया के पूर्व छात्र ने मजबूत याददाश्त से तोड़ा गिनीज़ बुक का रिकार्ड

जामिया के पूर्व छात्र ने मजबूत याददाश्त से तोड़ा गिनीज़ बुक का रिकार्ड

जामिया मिल्लिया इस्लामिया के पूर्व छात्र मोहम्मद फैसल ने अपनी जबर्दस्त याददाश्त से सातवें गिनीज़ बुक रिकार्ड को तोड़ दिया. उन्होंने यह कमाल 15 सितंबर, 2018 को असम वेली स्कूल, तेजपुर, असम में कर दिखाया. फैसल पहले से ही अपनी इस मज़बूत याददाश्त के लिए चार गिनीज़ बुक रिकार्ड बना चुके हैं.

डॉ विनीता बी सिंह, डा भुवन चन्द्रा बरुआ और डॉ धनपति डेका इस नए रिकार्ड के साक्षी बने. फैसल ने वर्ष 2016 में जेएमआई से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की थी. याददाश्त का यह मुकाबला साल 1952 से 2017 तक ‘‘मोस्ट गोल्डन ग्लोब्स- बेस्ट मोशन पिक्चर-म्यूज़िक ऑर कॉमेडी विजेताओं के नाम बताने को लेकर था. मुकाबले के नियम के अनुसार फैसल ने इस सभी विजेताओं के नाम शुरू से लेकर आखिर तक और आखिर से लेकर शुरू तक गिनाकर प्रतियोगिता में मौजूद सभी लोगों को अचंभित कर दिया.

फैसल को एक वर्ष बताया जाता और वह फौरन उस साल के मोस्ट गोल्डन ग्लोब्स- बेस्ट मोशन पिक्चर-म्यूज़िक ऑर कॉमेडी विजेताओं के नाम बिना रुके बता देता. इस प्रतियोगिता की पूरी वीडियो रिकार्डिंग की गई जिससे इसका सत्यापन किया जा सके. इस रिकॉर्डिंग को गिनीज़ वर्ल्ड रिकार्ड्स को पुष्टि के लिए भेज दिया गया है. सब सही पाए जाने पर फैसल को तीन महीने बाद सबसे मज़बूत याददाश्त वाले व्यक्ति का सर्टिफिकेट सौंप दिया जाएगा.

Top Stories