Monday , December 11 2017

मुसलमान आतंकी नहीं, बल्कि आतंकवाद की बलि चढ़ रहे हैं: ऑस्ट्रेलियाई अटॉर्नी जनरल

ऑस्ट्रेलिया: आतंकवाद के नाम पर मुसलमानों को बदनाम करने पर ऑस्ट्रेलिया के अटॉर्नी जनरल ने मुंहतोड़ जवाब देते हुए कहा है कि इस देश का मुस्लिम समाज अन्य समाजों से अधिक आतंकवाद की बलि चढ़ रहा है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

खबर के मुताबिक, गुरुवार को जॉर्ज ब्रेंडिस ने इस बात पर जोड़ देते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले मुस्लिम शरणार्थियों को आतंकवादी नहीं समझा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऑस्ट्रेलिया में मुसलमान अन्य धर्मों के मानने वालों की तुलना में आतंकवाद की अधिक बलि चढ़ रहे हैं।

ऑस्ट्रेलिया में शरणार्थियों के आतंकवाद से संबंध होने के सोच रखने वाले लोगों का कहना है कि इस देश में हुए पिछले तीन आतंकी हमले, शरणार्थियों ने ही किए थे। ऑस्ट्रेलिया के अटॉर्नी जनरल जॉर्ज ब्रेंडिस ने इसी तरह मुसलामनों और आतंकवाद के बीच संबंध के बारे में देश के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी एबोट के बयान को भी रद्द कर दिया।

वहीँ वन नेशन पार्टी के सिनेटर ब्रायन बोरिस्टन ने भी इस देश की गुप्तचर सेवा के प्रमुख लूइस डंकन से मांग की है कि वे अपने पद से त्यागपत्र दें। उन्होंने डंकन पर आतंकवाद और शरणार्थियों के बीच संबंध के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में सेनेट को गुमराह करने का आरोप लगाया।

TOPPOPULARRECENT