VIDEO: क्या ईरान से संभावित खतरे ने सऊदी अरब और इजराइल को करीब ला दिया है?

VIDEO: क्या ईरान से संभावित खतरे ने सऊदी अरब और इजराइल को करीब ला दिया है?

रियाद। ईरान की तरफ से संभावित खतरे ने सऊदी अरब और इस्राएल को एक दूसरे के करीब ला दिया है और दोनों के बीच राजनयिक संबंधों का एक नया अध्याय शुरू हुआ है। इस कदम से मध्य पूर्व में एकदम नये समीकरण जन्म ले सकते हैं।

नवंबर के मध्य में इस्राएली रक्षा बलों के चीफ ऑफ जनरल स्टाफ गाडी आइजेनकोट ने एक इंटरव्यू में बताया कि ईरान और सऊदी अरब के साथ अपने देश के रिश्तों को वह कैसे देखते हैं।
https://youtu.be/k0nchztquI0
यह इंटरव्यू उन्होंने सऊदी वेबसाइट एलाफ को दिया. इस वेबसाइट के मालिक पत्रकार ओथमान अल ओमैर हैं जिनके सऊदी अखबार अशर्क अल-अवसात के साथ नजदीकी रिश्ते हैं। और इस अखबार के मालिक सऊदी शाह हैं।

इसका मतलब है कि आइजेनकोट ने सऊदी मीडिया के दिल में दस्तक दी है। आइजेनकोट ने कहा कि इस्राएल ईरान का मुकाबला करने के लिए उदारवादी अरब देशों के साथ जानकारी और खुफिया सामग्री साझा करने को तैयार है।

वह इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि क्या इस्राएल पहले ही सऊदी अरब के साथ खुफिया जानकारी साझा कर रहा है. इस सिलसिले में एक पत्र का हवाला दिया गया जो कहता है, “जब जरूरी होगा तो हम जानकारी साझा करने को तैयार हैं।

हमारे बहुत से साझा हित हैं।” आइजेनकोट ने एक बात साफ तौर पर कही कि इस्राएल ईरान को क्षेत्र के लिए “सबसे बड़ा खतरा” समझता है।

Top Stories