मनमोहन सिंह का प्रशंसक हूं, मैंने मोदी से कहा था, समुदायों के आधार पर देश बांटना सही नहीं-ओबामा

मनमोहन सिंह का प्रशंसक हूं, मैंने मोदी से कहा था, समुदायों के आधार पर देश बांटना सही नहीं-ओबामा
Click for full image

नई दिल्ली। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘भारत के लिए विजन’ की तारीफ की और भारतीय अर्थव्यवस्था के आधुनिकीकरण करने के लिए डॉ. मनमोहन सिंह के योगदान को भी अविस्मरणीय बताया।

ओबामा ने यहां एचटी लीडरशिप समिट में पत्रकार करण थापर द्वारा मोदी के बारे में उनकी राय पूछे जाने पर कहा, कि मैं उन्हें पसंद करता हूं। लेकिन मैं डॉ. सिंह का भी बहुत बड़ा प्रशंसक हूं।

उन्होंने कहा कि मोदी का उनके देश के लिए एक विजन है और वे बहुत सारे क्षेत्रों में अनेक तरीकों से आधुनिकीकरण कर रहे हैं लेकिन डॉ. सिंह ने अपने कार्यकाल में कई क्रांतिकारी कदम उठाए, जैसे देश की अर्थव्यवस्था को दुनिया के लिए खोलना, जो बहुत अहम कदम है।

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि डॉ. सिंह एवं मोदी के कार्यकालों में भारत अमेरिका संबंध बहुत प्रगाढ़ बने।

साथ ही उन्होंने कहा की  “मैंने खुद प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिका के लोगों को निजी तौर पर कहा था कि कोई भी देश जातीय या संप्रदाय के आधार पर नहीं बंटना चाहिए, क्योंकि लोग अपने अंतर को कुछ ज्यादा ही गंभीरता से लेते हैं और समानताओं की अनदेखी करते हैं। समानताएं हमेशा लिंग पर आधारित होती हैं और हमें उन पर फोकस करना चाहिए।”

जब ओबामा से पूछा गया कि धार्मिक सहिष्णुता के बारे में मोदी की प्रतिक्रिया क्या थी, तो ओबामा इसका जवाब टाल गए और कहा कि उनका मकसद अपनी निजी बातचीत को सार्वजनिक करना नहीं था।

भारत एवं अमेरिका दोनों लोकतंत्र है और मेरा काम जो भी सत्ता में है, उसके साथ काम करना था। उन्होंने कहा कि मोदी और डॉ. सिंह दोनों लोग उनके साथ ईमानदार एवं स्पष्टवादी थे और दोनों ने देश के लिए कड़े कदम उठाए हैं।

Top Stories