Tuesday , September 25 2018

अमेरिका ने फलस्तीन के संगठन ‘हमास’ प्रमुख को आतंकियों की लिस्ट में डाला

अमेरिकी विदेश विभाग ने हमास नेता इस्माइल हनियेह का नाम आतंकवादी सूची में डाल दिया है. फलस्तीन के इस्लामिक संगठन हमास ने अमेरिकी फैसले को ‘हास्यास्पद’ करार दिया है.

अमेरिका ने फलीस्तीनी संगठन हमास के नेता इस्माइल हानिया को तीन अन्य समूहों के साथ विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी (एसडीजीटी) सूची में डाल दिया है. इसके बाद हानिया की अमेरिकी अधिकार क्षेत्र में आने वाली संपत्तियों सहित सभी परिसंपत्तियों को जब्त कर लिया जाएगा और वह अमेरिका के किसी भी शख्स के साथ किसी भी तरह का लेनदेन नहीं कर पाएंगे.

वह अमेरिका की वित्तीय प्रणाली तक भी पहुंच नहीं बना पाएंगे. इस्लामिक हमास आंदोलन ने बुधवार को अमेरिका के इस फैसले की निंदा की. इस आंदोलन के नेता ने कहा कि वे अमेरिका के इस फैसले को बेतुका समझते हैं

हमास प्रवक्ता ने कहा कि यह फलस्तीनी सशस्त्र प्रतिरोध पर दबाव बनाने का असफल प्रयास है. फलस्तीन के इस्लामिक संगठन हमास ने वैश्विक आतंकवादियों की सूची में हमास प्रमुख इस्माइल हानिया को सूचीबद्ध करने के अमेरिकी निर्णय की निंदा की है.

इस संगठन के नेताओं ने अमेरिकी फैसले को ‘हास्यास्पद’ करार दिया है. उन्होंने कहा कि फलस्तीनी लोग अमेरिकियों से अच्छे व्यवहार के प्रमाणपत्र का इंतजार नहीं कर रहे हैं.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने हमास के प्रवक्ता गाजा हाजेम कासेम के हवाले से कहा कि इस्माइल हानिया को आतंकवादियों की सूची में शामिल करना फिलिस्तीनी सशस्त्र प्रतिरोध पर दबाव बनाए रखने का एक असफल प्रयास है.

कासेम ने कहा, “यह हमारे प्रतिरोध को आगे बढ़ने और इजराइली कब्जे से अंतिम छुटकारा पाने के हमारे प्रयासों को खत्म नहीं कर पाएगा.” उन्होंने कहा कि हानिया अपने लोगों और अपने लक्ष्य के खातिर खुद को और उनके पास जो कुछ भी है उसका बलिदान करेंगे.

येरुशलम को इस्राएल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के अमेरिकी फैसले के बाद अमेरिका और इस फलस्तीनी गुट हमास के बीच तनाव बढ़ा है.

TOPPOPULARRECENT