यरूशलेम में अमेरिकी दूतावास विश्व जनमत का अपमान है: मौलाना अरशद मदनी

यरूशलेम में अमेरिकी दूतावास विश्व जनमत का अपमान है: मौलाना अरशद मदनी

नई दिल्ली: अमेरिका ने अपने ऐलान के मुताबिक यरूशलेम में अपना दूतावास कायम कर दिया है, इसलिए विरोध न सिर्फ फिलिस्तीनी कर रहे हैं बल्कि पूरी दुनियां में उसकी निंदा हो रही है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

विरोध प्रदर्शन के बीच जिस बेरहमी से मजलूम फिलिस्तीनियों की हत्या की गई हाई उसकी जमीअत उलेमा ए हिन्द के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने निंदा की है। मौलाना मदनी ने यरूशलेम में अमेरिकी दूतावास के उद्घाटन को विश्व जनमत का अपमान करार दिया है और अमेरिकी सरकार के इस रवैये को दुष्ट करार दिया है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका अन्तर्राष्ट्रीय कानून, सार्वजनिक राय और संयुक्त राष्ट्र के संयुक्त फैसले को नजरअंदाज करके कुछ हासिल नहीं कर पायेगा बल्कि उसके विपरीत वह इस क्षेत्र में बेचैनी और दर्द पैदा करने का ज़िम्मेदार होगा।

Top Stories