म्यांमार में अभी भी रोहिंग्या मुसलमानों की जातीय सफ़ाए जारी है- संयुक्त राष्ट्र

म्यांमार में अभी भी रोहिंग्या मुसलमानों की जातीय सफ़ाए जारी है- संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र संघ का कहना है कि म्यांमार में अभी भी रोहिंग्या मुसलमानों के जातीय सफ़ाए की प्रक्रिया जारी है।

म्यांमार के मामलों में राष्ट्र संघ के विशेष रिपोर्टर यांघी ली ने अपनी रिपोर्ट में उल्लेख किया है कि म्यांमार सरकार को देश में नागरिकों को समान अधिकार देने में किसी तरह की कोई दिलचस्पी नहीं है।

ली का कहना था कि म्यांमार सरकार लोकतंत्र की स्थापना के लिए प्रयास नहीं कर रही है और इस देश में सरकारी स्तर पर बचे खुचे रोहिंग्या मुसलमानों का सफ़ाया किया जा रहा है।

ग़ौरतलब है कि म्यांमार सेना ने राख़ीन प्रांत से रोहिंग्याओं का जातीय सफ़ाया कर दिया है।

सेना के सुनियोजित हमलों में बच्चों और महिलाओं समेत हज़ारों रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार किया गया।

चरमपंथी बौधों और सैनिकों के हमलों से जान बचाकर क़रीब 10 लाख रोहिंग्याओं ने बांग्लादेश में शरण ले रखी है।

Top Stories