चिंताजनक हक़ीकत: उत्तराखंड में मुस्लिम लड़कियों की ड्रॉप-आउट दर लगभग 90 फ़ीसद

चिंताजनक हक़ीकत: उत्तराखंड में मुस्लिम लड़कियों की ड्रॉप-आउट दर लगभग 90 फ़ीसद

देहरादून। उत्तराखंड में 14% आबादी वाली मुस्लिम आबादी में लड़कियों की शिक्षा के बारे में बेहद चिंताजनक तथ्य सामने आई है। केंद्र सरकार के ताज़ा आंकड़े बताते हैं कि राज्य में मुस्लिम लड़कियों की ड्रॉप-आउट दर लगभग 90 प्रतिशत है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उत्तराखंड में अल्पसंख्यक जनसंख्या लगभग 17 प्रतिशत है, जिसमें लगभग 14 प्रतिशत मुस्लिम आबादी है। स्कूलों में पहली क्लास में पढने वाली मुस्लिम लड़कियों की संख्या 62,241 है, लेकिन दसवीं तक आते आते यह सिर्फ 12,062 रह जाती है। बारहवीं क्लास तक ये आंकड़े गिरकर केवल 6,797 तक रह जाते हैं।

केंद्रीय सरकार की ओर से जारी किये आंकड़े से इस भयानक तथ्य के खुलासे के बाद अल्पसंख्यक मामलों के केंद्र सरकार के अधिकारियों इस ड्रॉप आउट दर को रोकने के लिए नई योजना बनाने की बात कही। राज्य में मुस्लिम लड़कियों के ड्रॉप-आउट की पहली बार राज्य की सबसे बुरी स्थिति सामने नहीं आई है। इस गंभीर मुद्दे पर राज्य के अल्पसंख्यक आयोग ने भी एक रिपोर्ट तैयार करके सरकार को भेजी थी, लेकिन उसपर कोई कार्रवाई नहीं की गई।

Top Stories