यशवंत सिन्हा ने बीजेपी छोड़ने का किया ऐलान, कहा- लोकतंत्र पर मंडरा रहा खतरा

यशवंत सिन्हा ने बीजेपी छोड़ने का किया ऐलान, कहा- लोकतंत्र पर मंडरा रहा खतरा
Click for full image

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और एनडीए सरकार में वित्त और रक्षा मंत्रालय जैसी अहम जिम्मेदारी संभालने वाले यशवंत सिन्हा ने पार्टी छोड़ने की घोषणा कर दी है। यशवंत सिन्हा करीब चार सालों से पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कदमों से अपना विरोध जता रहे थे।

यशवंत सिन्हा ने शनिवार को एक कार्यक्रम में कहा कि आज वह बीजेपी की किसी भी तरह की राजनीति से संन्यास लेते हैं और पार्टी के साथ अपने सारे संबंधों को खत्म कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश को मौजूदा हालत में पहुंचाने वाले लोगों को वह बर्बाद कर देंगे।

यशवंत सिन्हा ने कहा, ‘कुछ लोगों को लगता है कि 2014 में चुनावी राजनीति छोड़ने के बाद मेरी चिंताएं खत्म हो गई थीं, लेकिन मैं बता दूं कि मेरा दिल आज भी देश के लिए धड़कता है। मैं तब तक शांत नहीं बैठूंगा जब तक देश में मुश्किलें हैं।

उन्होंने कहा कि आज देश में लोकतंत्र खतरे में है। सिन्हा ने कहा, ‘यह सरकार की साजिश थी कि इस साल बजट सत्र ठीक से संचालित नहीं होने दें। पीएम ने सदन को ढंग से चलाने के लिए विपक्षी सांसदों से बातचीत क्यों नहीं की।

सरकार सदन के न चलने से खुश थी, क्योंकि रोज सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा था। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने भी कहा था कि सदन में शोरगुल होने की वजह से वह ढंग से 50 सांसदों की गिनती नहीं कर सकीं। उन्होंने लोकतंत्र का मजाक बना दिया।

Top Stories