गोरखपुर उपचुनावः योगी का बयान, कहा-हमें यूपी में औरंगजेब का शासन नहीं चाहिए

गोरखपुर उपचुनावः योगी का बयान, कहा-हमें यूपी में औरंगजेब का शासन नहीं चाहिए
Click for full image

गोरखपुर में लोकसभा के उपचुनाव के प्रचार के दौरान यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि यूपी की जनता औरंगज़ेब का राज नहीं चाहती है. योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने प्रत्याशी आयात किये हैं और जनता ने तय कर लिया है कि उसे औरंगज़ेब का शासन नहीं चाहिये. योगी  ने कहा कि बीजेपी को प्रत्याशी आयात नहीं करना पड़ा है. समाजवादी पार्टी को गोरखपुर में भी और फूलपुर में भी प्रत्याशी आयात करने पड़े. और तब भी जब नहीं बनी तो उन्होंने जबरन साइकिल पर हाथी चढ़ाने का प्रयास किया. तो वो जब साइकिल पर हाथी चढ़ाएंगे तो हाथी साइकिल का बोझ ले पाएगा यह आपको तय करना है.

 

सीएम योगी ने कहा, ‘मैं आज आप सबसे अपील करने के लिए आया हूं कि साइकिल तो पहले ही समाप्त हो चुकी है. प्रदेश की जनता पहले ही तय कर चुकी है कि प्रदेश के अंदर हमें सुशासन चाहिए. प्रदेश के अंदर हमें विकास चाहिए. प्रदेश के अंदर हमें औरंगजेब का शासन नहीं चाहिए.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए प्रचार के अंतिम दिन आज चार जनसभाएं की. मूर्तियों को तोड़े जाने के मुद्दे पर योगी ने कहा कि किसी की भावनाओं को आहत करने का अधिकार किसी भी व्यक्ति को नहीं है. राज्य में किसी को भी शांति भंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी . कैम्पियरगंज के रामचौरा में अपनी पहली सभा में मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ सपा-बसपा का गठबंधन स्वार्थ के लिए किया गया है और दोनों ही दलों ने गरीब जनता को लूटा है. हमारी सरकार ने दस महीने में विकास के कई कार्य किये, जो सपा-बसपा की सरकारें 15 साल में नहीं कर सकीं.’’

पि​पराइच के जंगल धूसर में एक अन्य सभा में उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन को दोनों दलों की हताशा बताया जिन्हें खुद पर ही भरोसा नहीं है तो वे प्रदेश की 22 करोड़ जनता का भरोसा कैसे जीत पाएंगे. यह गठबंधन विकास विरोधी है और यह भ्रष्टाचार, अराजकता एवं विभाजनकारी राजनीति को प्रोत्साहित करेगा.उन्होंने कहा कि सपा और बसपा की सरकारों के समय गुंडाराज, अराजकता और भ्रष्टाचार था. माताएं बहनें सुरक्षित नहीं थीं. किसान और कारोबारी असुरक्षित थे.
योगी ने कहा,‘‘ सपा गरीबों की शत्रु है. उसके शासनकाल में किसी गरीब को एक भी घर नहीं मिला जबकि हमारी बीजेपी सरकार ने मात्र दस महीने में 11 लाख 22 हजार आवास, 35 लाख राशन कार्ड और 25 लाख मुफ्त बिजली कनेक्शन मुहैया कराये.’’ उन्होंने कहा,‘‘ हमने गोरखपुर के लिए कई परियोजनाओं की घोषणा की है. अगर आप (मतदाता) चाहते हैं कि ये परियोजनाएं जमीनी स्तर पर भलीभांति कार्यान्वित हों तो सही उम्मीदवार का चयन करें. आपने विपिन सिंह के रूप में सही विधायक का चयन किया. अब उपेन्द्र शुक्ल के रूप में संसद के लिए सही प्रतिनिधि का चुनाव करें.’’ मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ पहले निवेशक राज्य में आने से घबराते थे क्योंकि पूर्व की सरकारों ने राज्य की छवि खराब कर रखी थी लेकिन अब हमने हालात सुधारे हैं और ‘‘इन्वेस्टर्स समिट’’ से यह साफ नजर आया.’’ योगी ने फूलपुर और गोरखपुर दोनों ही सीटों पर बीजेपी की जीत का विश्वास व्यक्त किया.

Top Stories