जानकारी ऑनलाइन न करने पर योगी सरकार ने मदरसों की मंजूरी को किया रद्द

जानकारी ऑनलाइन न करने पर योगी सरकार ने मदरसों की मंजूरी को किया रद्द
Click for full image
प्रतीकात्मक चित्र

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार उन मदरसों की मंजूरी को रद्द करने जा रही है जिन्होंने मदरसा पोर्टल पर अबतक अपनी जानकारी को ऑनलाइन नहीं किया है। जानकारी ऑनलाइन न करने की यह वजह बताई जा रही है कि यह मदरसे मदरसा बोर्ड से जुड़ना नहीं चाहते हैं कारण बताया जा रहा है कि ये मदरसा मदरसा बोर्ड से जुड़ना नहीं चाहते हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

खबर के मुताबिक मुजफ्फरनगर जिले में 134 मदरसों में से 18 मदरसों की मंज़ूरी प्रशासन द्वारा रद्द कर दिया गया है। इस संबंध में अल्पसंख्यक अधिकारी भरत लाल गौड़ ने बताया कि सरकार की गाइड लाइन के अनुसार मदरसा बोर्ड ने अपना पोर्टल बनाया है और सरकार चाहती है कि जैसे सभी कॉलेज ऑनलाइन हैं उसी तरह सभी मदरसे ऑनलाइन हो जाएं।

अभी तक मुजफ्फरनगर में 134 मदरसे थे, जिनमें से 116 मदरसे ने अपनी ऑनलाइन जानकारी दी है। बाकी 18 मदरसों ने अभी तक अपनी जानकारी ऑनलाइन नहीं की है। 30 अक्टूबर जानकारी ऑनलाइन करने कि आखिरी तारिख थी। जिसके बाद 18 मदरसों की मंजूरी रद्द कर दी गई है। अगर वे अपनी मंजूरी प्राप्त करना चाहते हैं, तो उन्हें नए सिरे से आवेदन देना पड़ेगा। जानकारी में यह बताना होगा कि उनके मदरसा को मंज़ूरी कब मिली थी, कितने शिक्षक हैं, कितने विद्यार्थी हैं और यह कि वह फायदा क्या ले रहे हैं आदि।

Top Stories