लॉकडाउन के दौरान महिलाएं हो रही है तनाव का शिकार!

लॉकडाउन के दौरान महिलाएं हो रही है तनाव का शिकार!

कोरोना वायरस महामारी की वजह से देश में जारी लॉकडाउन के 4 महीने पूरे हो चुके हैं। लोग इन दिनों में अपने घरों में रहने के लिए मजबूर हैं। 

 

लॉकडाउन में कोई काम न होने की वजह से लोग उदास और परेशान हैं। बहुत सारे लोग तो डिप्रेशन का शिकार हो चुके हैं. लॉकडाउन में महिलाएं ज्यादा परेशान हैं।

 

कोरोना के कारण कई परिवारों को रोजगार छिन गया है, जिसके कारण महिलाओं में चिंता और तनाव की समस्या बढ़ रही है। ऐसी बहुत सारी महिलाएं हैं, जिनके पति और बेटों की जॉब लॉकडाउन में चली गई है. इससे भी महिलाएं तनावग्रस्त हैं।

 

उन्हें बहुत कम साधनों में किसी तरह घर चलाना पड़ रहा है। आज हम इस आर्टिकल में आपको तनाव और चिंता से बचने के कुछ उपाय बता रहे हैं।

 

 

अगर आप छोटी सी समस्या को लेकर ज्यादा सोचते हैं और इसका कोई ठोस हल नहीं निकलता तो आप और भी ज्यादा परेशान हो जाते हैं। दिमाग में वही बात घूमने लगती है और आप तनाव का शिकार हो सकते हैं।

 

क्योंकि कोरोना महामारी की वजह से आई आर्थिक परेशानी तत्काल दूर नहीं हो सकतीं। इसमें समय लगेगा।

 

इसलिए चिंता करने की बजाए जिंदगी को धीरे-धीरे चलाने के उपाय खोजें और उसी के हिसाब से काम करें। तनाव लेने पर तबियत बिगड़ी तो पैसे की और भी जरूरत होगी और आप परेशान हो जाएंगी।

 

साभार- न्यूज़ 18

Top Stories