कट्टरपंथी विचारधारा समय के साथ कश्मीर में सिमटती गई – अब इसे धीरे-धीरे, चालाकी और निरंतर रूप से निष्प्रभावी करना होगा

कट्टरपंथी विचारधारा समय के साथ कश्मीर में सिमटती गई – अब इसे धीरे-धीरे, चालाकी और निरंतर रूप से निष्प्रभावी करना होगा

आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले शब्द ‘धार्मिक कट्टरपंथ’ की कोई आसानी से परिभाषा नहीं है।…

अगली सरकार और अहंकार

अगली सरकार और अहंकार

2019 का चुनाव अब अंतिम चरण में है। लोग पूछ रहे हैं कि सरकार किसकी बनेगी ? यह क्यों पूछ रहे हैं ? क्य…

ईरान का गला घोटे अमेरिका

ईरान का गला घोटे अमेरिका

अमेरिका ने पहले ईरान के तेल बेचने पर प्रतिबंध लगाया और अब उसने उसके लोहे, इस्पात और एल्यूमिनियम के आ…

तू मूर्ख, मैं महामूर्ख!!

तू मूर्ख, मैं महामूर्ख!!

अब ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ फिर से राष्ट्रीय बहस का मुद्दा बन गई है। सितंबर 2016 में जब सरकार ने प्रचार कि…

चार चुभते हुए मामले

चार चुभते हुए मामले

आज अदालत के चार मामलों ने देश में बड़ी खबरें बनाईं। एक तो प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगाई का मामला, दूसरा…

समझौता ब्लास्ट : राजनीतिक अवसरवाद ने आतंक के खिलाफ युद्ध को नुकसान पहुंचाया बल्कि राष्ट्रीय हितों को भी अनदेखी किया

समझौता ब्लास्ट : राजनीतिक अवसरवाद ने आतंक के खिलाफ युद्ध को नुकसान पहुंचाया बल्कि राष्ट्रीय हितों को भी अनदेखी किया

नई दिल्ली : जिस क्षण अदालत ने समझौता विस्फोट मामले में अपने फैसले की घोषणा की, उस मामले से जुड़े हर …